10रु के सिक्के से आज रात करें यह दुर्लभ उपाय, जिंदगी भर मालामाल रहेंगे

Saturday, August 12, 2017

सोशल मीडिया पर वायरल हो रही एक पोस्ट तो आपने भी पड़ी होगी। आज 12 अगस्त 2017 को रात नहीं होगी। रात में भी दिन के समान उजाला रहेगा। दरअसल यह एक वैज्ञानिक तथ्य को परिमार्जित करके बनाई गई कल्पना है। खगोल विज्ञान के अनुसार आज रात आसमान से उल्का पिंडों की बारिश होगी। सामान्य भाषा में इसे तारे टूटना कहते हैं। इसके वैज्ञानिक कारण और प्रभाव के बारे में तो आपको पता चल ही गया होगा। हम आपको बता रहे हैं, इस घटना से जुड़ा एक दुर्लभ टोटका। यह बड़ा ही सरल है। यदि आपने कर लिया तो तय मानिए जिंदगी भर आप मालामाल रहेंगे। आपका पर्स कभी खाली नहीं रहेगा। 

आज करीब 100 से 200 उल्काएं पृथ्वी के वातावरण से टकराएंगी, लेकिन चंद्रमा की रोशनी ‌अधिक होने के कारण 50 से 60 प्रति घंटा ही देखी जा सकेंगी। आपने भी सुना होगा कि टूटते तारे को देखकर यदि कोई विश मांगी जाए तो वो जरूर पूरी होती है लेकिन इस विशेष दिन के लिए एक विशेष टोटका भी है। 

इस समय 5 रूपए के सिक्के का एक उपाय आपको मालामाल भी बना सकता है। इस खगोलीय घटना का संबंध नक्षत्रों से भी होता है। 10 रूपए के एक सिक्के के ऊपर सिंदूर से अपने नाम का पहला अक्षर लिख दें। रात के समय उस सिक्के को अपनी छत पर लेकर जाएं और पानी की टंकी के ऊपर रख दें। अगर पानी की टंकी नहीं है तो फिर छत पर ही रहने दें।

सिक्का रखते हुए ध्‍यान रखें कि जिस तरफ आपके नाम का पहला अक्षर लिखा है, वो हिस्सा आसमान की तरफ होना चाहिए। रात के उस उजाले को सिक्के पर पड़े रहने दें। यही उजाला आपकी किस्मत को भी चमकाएगा। अगले दिन उस सिक्के को लाल कपड़े में लपेटकर अपने पर्स में रख लें। यही सिक्का आपकी जेब हमेशा भरता रहेगा।

विशेष नोट: यहां 10 रुपए का सिक्का अनिवार्य नहीं है। आप अपने सामर्थ्य एवं उपलब्धता के आधार पर सिक्के का चयन कर सकते हैं। अष्टधातु का सिक्का सर्वश्रेष्ठ माना गया है। ऐसे सिक्के जिसमें एक से अधिक धातुओं का उपयोग हुआ हो। कई पुराने सिक्के हैं जिनमें एक से अधिक धातुओं का उपयोग किया गया है। इन दिनों 10 रुपए का सिक्का प्रचलन में है जिसमें एक से अधिक धातुओं का उपयोग किया गया है। चांदी का सिक्का भी लाभकारी कहा जाता है परंतु स्वर्ण का सिक्का उपयोग नहीं किया जाना चाहिए। 

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

mgid

Loading...

Popular News This Week

 
Copyright © 2015 Bhopal Samachar
Distributed By My Blogger Themes | Design By Herdiansyah Hamzah