एक बॉस को अपने कर्मचारी में क्या गुण चाहिए

Tuesday, June 27, 2017

भारत में कर्मचारियों और बॉस के बीच विवाद हर रोज होते हैं और हजारों होते हैं। बॉस जो चाहता है, उसे मिल नहीं पाता जबकि कर्मचारी के पास अपने तर्क होते हैं। एंप्लॉयर कोई भी हो, वो अपने कर्मचारी को हमेशा सबसे बेस्ट देखना चाहता है और इसी तरह कर्मचारी भी अपने बॉस से सबसे बेस्ट की उम्मीद रखता है। कुछ कर्मचारी ऐसे होते हैं जिन्हे बॉस सबसे ज्यादा पसंद करता है। दरअसल, उनमें कुछ ऐसे गुण होते हैं जिसके कारण वो अपने बॉस का दिल जीत लेते हैं। यह कोई भी कर सकता है। बस थोड़ी सी प्रेक्टिस की जरूरत है। हम यहां बता दें कि बेस्ट एम्प्लॉयी के 10 गुण जो बॉस को हमेशा पसंद आते हैं। 

1. वर्बल कम्युनिकेशन: 
आज ज्यादातर कंपनियां चाहती हैं उनके कर्मचारी हर जगह कंपनी का प्रतिनिधित्व करने के काबिल हों. संवाद क्षमता हर काम में सफलता के लिए जरूरी है. किसी से सामने अपनी बात सही और स्पष्ट तरीके से रखने वाले लोग ही गंभीरता से लिए जाते हैं. ऐसे में आप लोगों में विश्वास जगा सकेंगे. वर्बल कम्युनिकेशन से ही आप अपने सुझाव बेहतर ढंग से अपने सीनियर के समक्ष रख सकेंगे. 

2. टीम वर्क: 
हर कंपनी चाहती है कर्मचारी एक टीम की तरह काम करें. और टीम के सामूहिक प्रयास से ही लक्ष्य को प्राप्त करें. 

3. कमर्शियल जागरूकता: 
एक कर्मचारी को आजकल उन कमर्शियल वास्तविकताओं से भी अवगत होना चाहिए जो कि कंपनी की तरक्की को नुकसान पहुंचा सकती हैं. आपको कंपनी के प्रतिद्वंदियों के बारे में पता होना चाहिए. बाहर कंपनी को लेकर क्या धारणा बन रही है, इसकी भी जानकारी होनी चाहिए. 

4. समस्या हल करने की काबिलियत: 
एक कर्मचारी में संबंधित डाटा एकत्र करके, उसका विश्लेषण करने और निष्कर्ष तक पहुंचकर इश्यू को हल करने की योग्यता होनी चाहिए. 

5. सेल्फ-मोटिवेशन: 
इंपलॉयी को सेल्फ-मोटिवेटिड होना चाहिए. ऐसे कर्मी अपनी टीम को भी प्रोस्ताहित करने का काम करते हैं. इससे न सिर्फ उनका व्यक्तिगत प्रदर्शन बल्कि पूरी टीम का प्रदर्शन बेहतर होता है. 

6. लीडरशिप क्वालिटी: 
अच्छी लीडरशिप स्किल के बिना सफलता की सीढ़ियां चढ़ना संभव नहीं है. नेतृत्व क्षमता का मतलब केवल बॉस बनना नहीं है बल्कि जिम्मेदारी उठाना और दूसरों के साथ समन्वय बनाकर काम करना भी है. हर कोई नेतृत्व क्षमता के साथ पैदा नहीं होता लेकिन इसे सीखा जरूर जा सकता है.

7.  रिटन कैपेविलिटी: 
मौखिक ही नहीं बल्कि लिखित संवाद भी बेहतर होना चाहिए. आप ऑफिस में किस भाषा में और कितना सही मेल लिख रहे हैं, यह काफी मायने रखता है. 

8. प्लानिंग: 
एक कर्मचारी में योजना बनाने और जमीन पर उतारने की काबिलियत होनी चाहिए. 

9. बदलते माहौल में ढलने की योग्यता: 
कंपनी में काम करने का माहौल बदलता रहता है, काम का स्वरूप भी बदलता रहता है. नेतृत्व में भी परिवर्तन होता रहता है. ऐसे में आपको पूरे धैर्य के साथ बदलते माहौल में काम करना आना चाहिए.

10. टाइम मैनेजमेंट: 
ऑफिस में कम समय में अधिक काम करने के लिए टाइम मैनेजमेंट बहुत जरूरी होता है. दिए गए काम को तय समय पर करके देने से ही आपको सफलता मिलेगा. 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें

mgid

Loading...

Popular News This Week

 
Copyright © 2015 Bhopal Samachar
Distributed By My Blogger Themes | Design By Herdiansyah Hamzah