मालामाल मंत्रियों के बीच मिडिल क्लास मोदी: बस इतनी सी है संपत्ति

Monday, September 11, 2017

नई दिल्ली। भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को कई बातों के लिए याद रखा जाएगा। उसमें से एक यह भी होगी कि मोदी उस मंत्रिमंडल के प्रधानमंत्री हैं जिनके मंत्रियों के पास सैंकड़ों करोड़ की संपत्ति है जबकि उसकी हालत मिडिल क्लास जैसी है। पूर्व में की गई बचत पर ब्याज बढ़ रहा है बस। पीएम नरेंद्र मोदी, अरुण जेटली और सुषमा स्वराज ने फाइनेंशियल ईयर 2016-17 के लिए अपनी संपत्ति की घोषणा कर दी है। सरकार की वेवसाइट pmindia.gov.in के मुताबिक 2013-14 में मोदी ने अपनी संपत्ति 1.13 करोड़ रुपए बताई थी, जो तीन साल में बढ़कर 2 करोड़ से ज्यादा हो गई है। 2014 से अब तक पीएम की संपत्ति में 60 फीसदी का इजाफा हुआ है। मोदी के वित्तमंत्री अरुण जेटली उनसे कहीं ज्यादा माला माल हैं। उनके पास 100 करोड़ की संपत्ति है। यानि मोदी के पास जितनी संपत्ति है, उतना तो जेटली की संपत्ति मूल्य में हर महीने उतार चढ़ाव आता रहता है। 

उधर, सुषमा स्वराज की संपत्ति भी 2013-14 से अब तक दोगुनी हो गई है। अभी तक पीएम मोदी सहित सरकार के 14 मंत्रियों ने अपनी संपत्ति का एलान कर दिया है। इनमें डीवी सदानंद गौड़ा, रामविलास पासवान, जेपी नड्डा, अशोक गजपति राजू, प्रकाश जावड़ेकर, मुख्तार अब्बास नकवी और अनुप्रिया पटेल शामिल हैं। हालांकि, अभी गृह मंत्री राजनाथ सिंह समेत कई मंत्रियों ने अपनी संपत्ति का एलान नहीं किया है।

ये है मोदी की सपंत्ति की डीटेल्स
चल संपत्ति: चल संपत्ति एक करोड़ रुपए से कुछ ज्यादा है, जो 2015-16 में 73 लाख, 2014-15 में 26 लाख और 2013-14 में 13 लाख रुपए थी। साल 2013-14 से अब तक पीएम की चल संपत्ति में करीब 87 लाख रुपए का इजाफा है।
अचल संपत्ति: मोदी के पास गांधी नगर के सेक्टर-1 में एक प्रॉपर्टी में चौथाई हिस्सा है, जिसकी मार्केट वैल्यू हर साल 1 करोड़ रुपए ही आंकी जा रही है।
ज्वैलरी: लोकसभा चुनाव के दौरान इलेक्शन कमीशन को दिए एफिडेविट में मोदी ने अपने पास 1.15 लाख की ज्वैलरी बताई थी। 2016-17 में भी उनके पास वही 4 सोने की अंगूठियां हैं। जिनकी कीमत अब 1.28 लाख रुपए बताई है।
कार: इनके पास है।
कैश: बैंक अकाउंट्स में 1,33,496 रुपए हैं, जबकि कैश इन हैंड के तौर पर पास 1,49,700 रुपए हैं। इसके अलावा, गुजरात के गांधीनगर में एसबीआई में एफडीआर और एमओडी बैलेंस के तौर पर 90,26,148 रुपए हैं।
एलएंडटी इंफ्रा बॉन्ड (टैक्स सेविंग) में 20 हजार रुपए का इन्वेस्टमेंट किया है, जबकि उनके पास 3,96,505 रुपए के नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट (एनएससी) हैं।

​ये है अरुण जेटली की लिस्ट
फाइनेंस मिनिस्टर अरुण जेटली मोदी सरकार के सबसे अमीर मंत्रियों में से एक हैं। जेटली और उनकी पत्नी संगीता जेटली की कुल संपत्ति 100 करोड़ रुपए से ज्यादा है।
चल संपत्ति: जेटली की मौजूदा चल संपत्ति 29.27 करोड़ रुपए है, जिसमें बैंक अकाउंट में जमा, पीपीएफ, कैश इन हैंड शामिल हैं। 2015-16 में उनकी चल संपत्ति 29 करोड़ रुपए, जबकि 2014-15 में 31.76 करोड़ रुपए थी। साल 2013-14 में चल संपत्ति 32.07 करोड़ रुपए थी। साल 2013-14 से अब तक उनकी चल संपत्ति में करीब 2.80 कराेड़ रुपये की कमी हो चुकी है।

अचल संपत्ति: वित्त मंत्री की 2016-17 में घोषित कुल अचल संपत्ति 80 करोड़ रुपए से ज्यादा है, जिसमें हरियाणा के फरीदाबाद, गुड़गांव, पंजाब, गुजरात और दिल्ली के फ्लैट्स शामिल हैं। इन प्रॉपर्टीज की मार्केट वैल्यू में लगातार इजाफा की वजह से उनकी कुल संपत्ति में बढ़ोतरी हो रही है।

ज्वैलरी: जेटली के पास इस समय 3 किलो 154 ग्राम गोल्ड और 15.80 किलो चांदी है। इसके अलावा, 45 लाख कीमत के डायमंड भी हैं। मौजूद सोने-चांदी और डायमंड की कुल कीमत 1.29 करोड़ रुपए से ज्यादा है। 2013-16 के बीच जेटली के पास 5 किलो 630 ग्राम सोना और 15 किलो चांदी थी। 2013-14 से अब तक उनके पास मौजूद हीरों की कीमत वही की वही रही। 45 लाख रुपए। 

कार: जेटली के पास इस समय 1.93 करोड़ रुपए कीमत की चार कार हैं। इनमें दो मर्सिडीज बेंज, एक फॉच्यूनर और एक अकॉर्ड शामिल है। साल 2014-15 में उनके पास 86 लाख कीमत की एक बीएमडब्ल्यू कार भी थी, जबकि 2013 में इन सब कारों के साथ ही 1.03 करोड़ रुपए कीमत की एक पॉर्श कार भी थी, जिसका इस बार जिक्र नहीं किया गया है।

इन्वेस्टमेंट: जेटली ने एन्प्रो ऑयल्स लिमिटेड में 9 करोड़ और डीसीएम श्रीराम कंसॉलिडेटेड लिमिटेड में 8 करोड़ रुपए का निवेश किया है। उन्होंने पीपीएफ में 29,37,333 रुपये निवेश किया हुआ है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week