दिमाग एक APP है, इसका इस्तेमाल करो: अमिताभ बच्चन @कुमार विश्वास

Thursday, July 13, 2017

नई दिल्‍ली: अमिताभ बच्चन के कॉपीराइट के लीगल नोटिस के बाद कुमार विश्वास ने हरिवंश राय बच्चन की कविता वाला वीडियो हटा दिया है. साथ ही आप नेता ने यह भी बताया कि हरिवंश राय बच्चन की कविता सुनाने से उनको 32 रुपये की कमाई हुई है. अमिताभ बच्‍चन अक्‍सर विवादों से खुद को दूर रखते हुए हर मामले पर काफी सधी हुई प्रतिक्रिया देते हैं. लेकिन हाल ही में आम आदमी पार्टी नेता कुमार विश्‍वास ने हरिवंश राय बच्‍चन की कविता 'नीड़ का निर्माण' के एक वीडियो अपनी आवाज में यूट्यूब पर पोस्‍ट किया और इस पर अमिताभ बच्‍चन की जताई आपत्ति ने उन्‍हें विवादों में ला दिया है.

दरअसल इस कविता को कुमार विश्‍वास द्वारा गाया गया और इसपर अमिताभ बच्‍चन ने उन्‍हें लीगल नोटिस भेज दिया। इस पर जवाब देते हुए बुधवार शाम को कुमार विश्‍वास ने ट्वीट कर कहा, 'सभी कवियों से मुझे इसके लिए सराहना मिली, लेकिन आपसे नोटिस मिला। बाबूजी को श्रद्धांजलि का वीडियो डिलीट कर रहा हूं। साथ ही आपके द्वारा मांगने पर 32 रुपये भेज रहा हूं, जो इससे कमाए हैं। प्रणाम'। लेकिन लगता है, अमिताभ बच्‍चन को कुमार विश्‍वास द्वारा दिया गया यह 'उल्‍हाना' पसंद नहीं आया और उन्‍होंने एक अनोखे अंदाज में कुमार को पलटवार दिया है।

अमिताभ बच्‍चन ने बुधवार रात को अपने ट्विटर अकाउंट से ट्वीट किया, 'हो सकता है कि अगर हम कुछ लोगों से ये कह सकें की 'दिमाग़' एक APP है, तो शायद वो उसका इस्तेमाल, उपयोग करना शुरू कर दें। हालांकि इस ट्वीट में अमिताभ बच्‍चन ने किसी का नाम नहीं लिखा है और न ही किसी को टैग किया है लेकिन कुमार विश्‍वास के ट्वीट के कुछ घंटों बाद आया अमिताभ बच्‍चन का यह ट्वीट, सीधे न सही पर अप्रत्‍यक्ष रूप से कुमार विश्‍वास को नसीहत देता लग रहा है। हो सकता है की अगर हम कुछ लोगों से ये कह सकें की 'दिमाग़' एक APP ., है , तो शायद वो उसका इस्तेमाल, उपयोग करना शुरू कर दें।

इसके बाद अमिताभ बच्चन ने बीते 10 जुलाई को कुमार विश्वास को टैग करते हुए ट्वीट किया था, जिसमें उन्‍होंने इस वीडियो को लेकर कहा था 'ये कॉपीराइट का उल्‍लंघन है। हमारा लीगल डिपार्टमेंट इस बात की सुध लेगा।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week