मप्र रापुस के 10 अधिकारी बने IPS अफसर

Wednesday, April 19, 2017

भोपाल। मध्यप्रदेश के आईएएएस, आईपीएस तथा आईएफएस के लिए बुधवार को दिल्ली में हुई डीपीसी में राज्य पुलिस सेवा से भारतीय पुलिस सेवा में पदोन्नति के लिए अनिल मिश्रा और सुशील रंजन का प्रस्ताव अटक गया है। जबकि अन्य दस अधिकारियों के नामों पर मुहर लग गई है। दिल्ली में संघ लोक सेवा आयोग के दफ्तर में सबसे पहले आईपीएस के दस पदों के लिए तीस अफसरों के नामों पर विचार किया गया। 

इस डीपीसी के लिए संघ लोक सेवा आयोग के सदस्य के अलावा एनसीआरबी के डायरेक्टर सुरेन्द पवार, संयुक्त सचिव  प्रदीप वशिष्ठ, मुख्य सचिव बीपी सिंह, अपर मुख्य सचिव गृह केके सिंह, डीजीपी ऋषि शुक्ला शामिल हुए।  डीपीसी में रेप के आरोप में फरार चल रहे राज्य पुलिस सेवा के अधिकारी अनिल मिश्रा और एक मामले में दंडादेश पारित हो जाने के कारण  सुशील रंजन की पदोन्नति अटक गई है। इनके अलावा दस अन्य अफसरों के नामों पर पदोन्नति के लिए सहमति बन गई है। इनके पदोन्नति आदेश जल्द ही जारी किए जाएंगे।

आईएएस के लिए इन पर बनी सहमति
उमेश सिंह, अशीष कुमार, शैलबाला मार्टिन, जगदीश चंद्र जटिया, वेद प्रकाश, राजेश श्रीवास्तव, वंदना वैद्य, अनुभा श्रीवास्तव, राकेश सिंह, प्रबल सिपाहा, शशिभूषण सिंह, सत्येन्द्र सिंह, मनीष सिंह, अमरपाल सिंह, छोटे सिंह, अक्षय सिंह, दिनेश श्रीवास्तव, सपना निगम, दीपक सक्सेना, अनिल खरे, आरपीएस जादौन, बसंत कुर्रे, संदीप माकिन, सुरेश कुमार और चंद्रशेखर बालिम्बे।

IPS के दस पदों के लिए इन पर मुहर
मनोज कुमार श्रीवास्तव, पंकज श्रीवास्तव, राजेश कुमार सिंह, विनीत कपूर, धर्मेन्द्र सिंह भदौरिया, हेमंत चौहान,विजय खत्री, विनीत जैन,मनोज कुमार सिंह, राकेश कुमार सिंह।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week