अब संसद में गूंजेगा ABVP-AISA हिंसा मामला

Tuesday, February 28, 2017

नई दिल्ली। दिल्ली यूनिवर्सिटी (DU) के रामजस कॉलेज में बीते दिनों हुई हिंसा का मामला गर्माता जा रहा है। मंगलवार को इस मुद्दे पर डीयू के साथ ही जेएनयू के छात्रों और शिक्षकों ने रामजस कॉलेज में प्रदर्शन किया।प्रदर्शनकारियों में वामपंथी और आम आदमी पार्टी से जुड़े छात्र संगठनों ने भी हिस्सा लिया। इस प्रदर्शन को समर्थन देने के लिए सीपीएम नेता सिताराम येचुरी और डी राजा भी पहुंचे। छात्रों को संबोधित करते हुए डी राजा ने कहा कि हम इस मुद्दे को संसद में उठाएंगे वहीं येचुरी ने कहा कि हमारी राष्ट्रीयता यह है कि हम भारतीय हैं, यह नहीं की कौन हिंदू है।

इससे पहले कन्हैया कुमार भी इन छात्रों के समर्थन में रामजस कॉलेज पहुंचा। इस दौरान वहां 'हम होंगे कामयाब' के नारे लगे। छात्रों के प्रदर्शन के बीच केंद्रीय गृह राज्यमंत्री किरण रिजिजू ने बड़ा बयान देते हुए कहा है कि वामपंथियों ने कभी देश का भला नहीं किया। यह लोग देश के युवाओं को गलत रास्ते पर ले जा रहे हैं जो गलत है।

मंगलवार को इस मुद्दे पर मीडिया से बात करते हुए रिजिजू ने कहा कि गुरमेहर कौर एक नौजवान लड़की है, उसके ऊपर किसी तरह का विवाद खड़ा करना सही नहीं होगा। उन्होंने यह भी कहा कि वामपंथी लोगों को दूसरे के कंधे पर बंदूक चलाने की आदत पड़ चुकी है। 1962 की भारत और चीन की लड़ाई में वामपंथियों ने चीन का साथ दिया और अब ये लोग नौजवानों को भड़काने का काम कर रहे हैं।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Trending

Popular News This Week