पाकिस्तान की धमकी: हमारा सर्जिकल स्ट्राइक पीढ़ियों तक नहीं भूल पाओगे - क्लिक करें | No 1 Hindi News Portal of Central India (Madhya Pradesh) | हिन्दी समाचार

पाकिस्तान की धमकी: हमारा सर्जिकल स्ट्राइक पीढ़ियों तक नहीं भूल पाओगे

Friday, November 25, 2016

;
इस्लामाबाद: पाकिस्तान ने आज भारत को चेतावनी दी कि ‘जंग के लिए मजबूत’ उसकी सेना किसी भी आक्रमण का जवाब देने में सक्षम है। देश के सेना प्रमुख जनरल राहील शरीफ ने कहा कि अगर पाकिस्तान ने कभी सर्जिकल स्ट्राइक की तो भारत पीढियों तक उसे भूल नहीं पाएगा।

अपनी प्रस्तावित सेवानिवृत्ति से कुछ दिन पहले जनरल शरीफ ने कहा, ‘अगर पाकिस्तान सर्जिकल स्टाइक करता है तो भारत आने वाली पीढियों तक उसे भूल नहीं पाएगा।’ उन्होंने कहा, ‘अगर पाकिस्तान ने इस तरह के हमले किये तो भारत अपने बच्चों को पाठ्यक्रम में पढ़ाएगा कि सर्जिकल स्ट्राइक होता क्या है।’

उन्होंने भारत की इस बात को भी खारिज किया कि उसने पाकिस्तान में सर्जिकल स्ट्राइक की थी। उन्होंने कहा कि पाकिस्तानी सेना भारतीय बलों को सबक सिखाने में सक्षम है।

खबर कबाइली क्षेत्र में देश के धाकड़ बल्लेबाज शाहिद अफरीदी के नाम पर एक क्रिकेट स्टेडियम का उद्घाटन करने के बाद कबाइली बुजुर्गों को संबोधित करते हुए जनरल ने पुष्टि की कि वह तीन साल के कार्यकाल के बाद 29 नवंबर को तय कार्यक्रम के अनुसार सेवानिवृत्त होंगे।

उन्होंने कहा कि वह सेवानिवृत्ति के बाद अपना जीवन शहीदों के परिवारों के कल्याण के लिए समर्पित करेंगे।

इससे पहले, प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने कहा कि पाकिस्तान आम नागरिकों विशेषकर बच्चों और महिलाओं, एंबुलेंसों और आम लोगों के परिवहन को ‘‘जानबूझकर’’ निशाना बनाने को बर्दाश्त नहीं करेगा।

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान ने नियंत्रण रेखा पर भारतीय सुरक्षाबलों द्वारा निरंतर संघषर्विराम उल्लंघन के बावजूद अधिकतम संयम बरता है। उन्होंने कहा, ‘हम निर्दोष लोगों पर जानबूझकर किये गये हमले बर्दाश्त नहीं करेंगे।’ उधर, वायुसेना चीफ मार्शल सोहेल अमान ने कहा कि पाकिस्तान भारत से किसी भी खतरे से चिंतित नहीं हैं और उसकी ‘जंग के लिए मजबूत’ सेना किसी भी आक्रमण का जवाब देने में सक्षम है।

उन्होंने कराची में नौंवी अंतरराष्ट्रीय रक्षा प्रदर्शनी एवं सम्मेलन में कहा, ‘हम भारत को लेकर बिल्कुल भी चिंतित नहीं हैं।’ उन्होंने कहा कि बेहतर होगा कि अगर भारत संयम दिखाए और तनाव बढ़ने से रोकने के लिए कश्मीर मुद्दे को सुलझाए।
;

No comments:

Popular News This Week