मप्र की सभी ग्राम पंचायतें ऑप्टिकल फाइबर से जुड़ेंगी

Saturday, October 22, 2016

भोपाल। देश की सभी ग्राम पंचायतों को ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क से जोड़ा जायेगा। प्रत्येक ग्राम पंचायत में कॉमन सर्विस सेन्टर स्थापित किये जायेंगे। केन्द्रीय कानून एवं न्याय, इलेक्ट्रानिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री श्री रविशंकर प्रसाद ने यह बात ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट-2016 के इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी एवं ईएसडीएम सेशन में कही।

श्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि डिजिटल गवर्नेंस ही बेहतर गवर्नेंस हैं। उन्होंने बताया कि ई-वीजा, ई-मण्डी, ई-स्कालरशिप, ई-हास्पिटल जैसे प्रोजेक्ट शुरू किये गये हैं। श्री प्रसाद ने बताया कि पिछले साल 4000 स्टार्ट-अप शुरू किये गये हैं। उन्होंने बताया कि छोटे शहरों में बीपीओ खोलने की योजना में मध्यप्रदेश में 3500 बीपीओ स्वीकृत किये गये हैं। मोबाइल बनाने की 40 कम्पनियाँ स्थापित हुई हैं। उन्होंने कहा कि 'मेक इन इंडिया फॉर इंडिया एण्ड एक्पोर्ट योजना' में काम करें, सरकार पूरी सहायता करेगी।

मध्यप्रदेश में बनेगा डॉटा सेन्टर
श्री प्रसाद ने कहा कि शीघ्र ही मध्यप्रदेश में डॉटा सेन्टर स्थापित किया जायेगा। इलेक्ट्रानिक्स में पीएचडी करने वाले विद्यार्थियों को छात्रवृत्ति दी जायेगी। उन्होंने बताया कि इलेक्ट्रानिक इण्डस्ट्री शुरू करने वालों को लगभग 25 प्रतिशत की सहायता केन्द्र सरकार द्वारा दी जाती है। राज्य सरकार अलग से सहयोग करती है। श्री प्रसाद ने कहा कि विभिन्न भारतीय भाषाओं में सर्विस डिलेवरी सिस्टम का बहुत स्कोप है।

प्रदेश के राजस्व, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री श्री उमाशंकर गुप्ता ने कहा कि इलेक्ट्रानिक इण्डस्ट्री लगाने का प्रस्ताव लाइये, सपोर्ट के लिये हम तैयार हैं। उन्होंने कहा कि उद्योगपतियों की माँग अनुसार ईएसडीएम पॉलिसी में परिवर्तन किया गया है। श्री गुप्ता ने कहा कि सरकार का माइंड-सेट अधिक से अधिक रोजगारमूलक उद्योग स्थापित करने का है। प्रमुख सचिव विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी श्री मोहम्मद सुलेमान ने आईटी, ईएसडीएम पॉलिसी-2016 के बारे में जानकारी दी।

एम2आई इंटरनेशनल के पार्टनर श्री अजित मनोचा ने ईएसडीएम के ग्लोबल पर्सपेक्टिव के बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि भारत सॉफ्टवेयर के मामले में विश्व में नंबर एक है। श्री मनोचा ने बताया कि प्रदेश में एक बड़ा प्रोजेक्ट जल्द शुरू करेंगे। जीएससी स्नीडर इलेक्ट्रिक के प्रमुख श्री के.पी. शर्मा ने भी कहा कि मध्यप्रदेश में उद्योग लगाने की संभावनाओं पर विचार कर रहे हैं। इनफिनियन टेक्नोलॉजी के एमडी श्री विनय सिनॉय ने इलेक्ट्रानिक इंडस्ट्री की संभावनाओं और इसके ग्लोबल फुट प्रिन्ट के बारे में बताया। श्री एलेक्जेण्डर वर्गीस ने ईएसडीएम के लिये मध्यप्रदेश में किये जा रहे प्रयासों की सराहना की। एमपीएसईडीसी के एमडी श्री एम. सेलवेन्द्रन ने सत्र का संचालन किया।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Trending

Popular News This Week