इस्लामिक धार्मिक स्कूलों के खिलाफ सैनिक कार्रवाई की तैयारी

Thursday, October 27, 2016

;
इस्लामाबाद। भारत में संचालित आतंकवादी गतिविधियों के पीछे पाकिस्तान के सिंध प्रांत में संचालित मदरसों का बहुत बड़ा हाथ है। यहीं पर भारत में आतंकी हमलों की प्लानिंग होती है और यहीं से पूरा नेटवर्क डील किया जाता है। पाकिस्तान सरकार जल्द ही इस्लामिक धार्मिक स्कूलों के खिलाफ अभियान शुरू करने की तैयारी कर रही है। करीब 93 मदरसे चिन्हित किए गए हैं जो कार्रवाई की जद में आएंगे। 

'दि एक्सप्रेस ट्रिब्यून' की खबर के अनुसार, पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी को इन मदरसों में चलने वाली गतिविधियों के बारे में पुख्ता जानकारी है। खबर के अनुसार, कानून-व्यवस्था की समीक्षा करने के लिए सिंध के मुख्यमंत्री के आवास पर कल एक विशेष बैठक हुई जिसमें इन आंकड़ों की जानकारी दी गयी। 

मुख्यमंत्री मुराद अली शाह की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में रेंजर्स के महानिदेशक मेजर जनरल बिलाल अकबर और असैन्य नेतृत्व के अन्य सदस्यों सहित खुफिया एजेंसियों के प्रांतीय प्रमुख भी शामिल हुए। मुख्यमंत्री ने आतंकवादियों को पनाह देने वाले मदरसों के खिलाफ अभियान चलाने का निर्देश पुलिस और रेंजर्स को दिया।

शाह ने कहा, 'ऐसा रवैया स्वीकार्य नहीं है। हम किसी को भी धर्म के नाम पर या पाक जगहों पर मासूमों का खून बहाने की अनुमति नहीं दे सकते हैं। यह अभियान भी खुफिया सूचनाओं पर आधारित और लक्षित होगा।' यह अभियान चेहल्लुम के तुरंत बाद शुरू होगा।
;

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Popular News This Week