मप्र के 20 कलेक्टर/सीईओ का खराब प्रदर्शन, सीएम नाराज

Friday, October 28, 2016

;
भोपाल। कलेक्टर-कमिश्नर कांफ्रेंस में मप्र के 20 जिलों में काफी खराब प्रदर्शन सामने आया है। इन जिलों के कलेक्टर/सीईओ से सीएम संतुष्ट नहीं हैं। सीएम ने इन सभी जिलों की लिस्ट मंगवाई है। बताया गया है कि सभी को लिखित समझाईश देकर चेतावनी दी जाएगी। 

मुख्यमंत्री की प्राथमिकता वाली योजनाओं में शामिल मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना, स्वच्छ भारत मिशन, लोक सेवा गारंटी, सीएम हेल्प लाइन, प्रधानमंत्री आवास योजना समेत अन्य स्कीम में जिन जिलों के परफार्मेंस खराब सामने आए हैं, उन जिलों के कलेक्टरों तथा सीईओ जिला पंचायत को समझाईश पत्र देने की तैयारी शुरू हो गई है। 

लोक सेवा गारंटी के मामले में खंडवा, इंदौर, दमोह, शहडोल, उमरिया, विदिशा, अलीराजपुर तथा स्वच्छता मिशन के मामले में अशोकनगर, सतना, होशंगाबाद जिले शामिल हैं। विदिशा और उमरिया जिलों की परफार्मेंस दोनों ही कामों में खराब रही है। हालांकि दोनों ही जिलों में कलेक्टरों की पदस्थापना दो माह पहले ही हुई है। इसी तरह की स्थिति अन्य योजनाओं के मामले में है। 

सीएम ने इनके साथ अन्य योजनाओं के क्रियान्वयन के मामले में सभी को समझाईश पत्र देने के लिए कहा है जिसमें काम में सुधार की चेतावनी भी दी जाएगी। सूत्रों का कहना है कि अलग-अलग योजनाओं में 20 जिलों की परफार्मेंस खराब है। ऐसे में इन सभी जिलों के कलेक्टरों को सीएम को ओर से पत्र भेजने के लिए विभागों ने प्रस्ताव तैयार करना शुरू कर दिया है। ये जानकारी सीएम के पास भेजी जाएगी।
;

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

Popular News This Week