MP NEWS / फेसबुक पर भगवान का अपमान किया था, हाईकोर्ट ने दी ऐसी सजा...

ग्वालियर। फेसबुक पर देवी-देवताओंं के लिए अभद्र पोस्ट करने के आरोपी वकील संजय कुस्तवार द्वारा प्रस्तुत एफआईआर निरस्त के आवेदन पर सुनवाई के लिए हाईकोर्ट ने अनोखी शर्त रखी है। मप्र हाईकोर्ट की ग्वालियर खंडपीठ के जस्टिस आनंद पाठक ने बुधवार को इस मामले में संजय कुस्तवार से कहा कि वे एक हजार बार राम नाम और एक हजार बार हर-हर महादेव लिखकर एक सप्ताह में पेश करें। उसके बाद इस मामले की आगे सुनवाई होगी। 

वहीं आरोपी ने अपने वकील विजय सिंह चौहान के माध्यम से हाईकोर्ट को बताया कि जिन पोस्ट को लेकर मुझ पर केस दर्ज हुआ है, वह पोस्ट मैंने नहीं की, बच्चों से गलती में हाे गईं। हाईकोर्ट ने कहा कि जो पोस्ट परिवार, समाज व देश के माहौल के विपरीत हों। उन्हें नहीं किया जाना चाहिए। इस मामले की सुनवाई अब एक सप्ताह बाद होगी। 

वकीलों ने ही कराया मामला दर्ज 

लहार के पास स्थित लपवाह गांव के निवासी संजय कुस्तवार की फेसबुक आईडी पर 2 अगस्त 2018 को भगवान राम, ब्रह्मस, कृष्ण और शंकरजी को लेकर आपत्तिजनक पोस्ट फोटो व कमेंट के साथ की गई थी। एडवोकेट प्रवीण त्रिपाठी ने उक्त पोस्ट के प्रिंट के साथ लहार थाने में शिकायत दर्ज कराई। संजय पर पुलिस ने भादंवि की धारा 153-ए, 502 (2) और आईटी एक्ट की धारा 67 ए के तहत केस दर्ज किया था। वहीं संजय कुस्तवार ने भिंड में दूसरे पक्ष के खिलाफ हरिजन एक्ट का केस दर्ज करा दिया था। संजय ने उक्त एफआईआर निरस्त कराने के लिए हाईकोर्ट की ग्वालियर बेंच में आवेदन पेश किया है।