मप्र में कांग्रेस को बचाने की आखरी कोशिशें जारी, लिस्ट आज भी अटकी | mp news

Advertisement

मप्र में कांग्रेस को बचाने की आखरी कोशिशें जारी, लिस्ट आज भी अटकी | mp news

भोपाल। मध्यप्रदेश में कांग्रेस पर अब अस्तित्व का संकट आ खड़़ा हुआ है। चुनाव जीतना तो दूर फिलहाल उन नामों की लिस्ट भी जारी नहीं हो पा रही है जो निर्विवाद हैं। अंदर हुए बिखराव से मीडिया को भ्रमित करने के लिए सुबह कहा गया कि लिस्ट आज जारी हो जाएगी। शाम को जब घर जाने का वक्त हुआ तो कमलनाथ ने बयान बदल दिया। कहने की जरूरत नहीं कि ज्योतिरादित्य सिंधिया और दिग्विजय सिंह के बीच रार बढ़ती जा रही है और कांग्रेस हाईकमान भी इसका कोई हल नहीं निकाल पाए हैं। 

शुक्रवार सुबह पहले कमलनाथ और फिर दीपक बावरिया ने बयान दिए थे कि आज लिस्ट जारी हो जाएगी। यहां तक बता दिया था कि 200 नाम फाइनल हो गए हैं बस 30 नाम तय होना शेष हैं। कांग्रेस से जुड़ा छोटे से छोटा कार्यकर्ता जानता है कि यदि 03 नवम्बर से पहले लिस्ट जारी नहीं हुई तो फिर दीपावली तक की छुट्टी। राहुल गांधी को विदेश जा रहे हैं। अब केवल लास्ट वर्किंग डे बचा है।

तकरार बरकरार रही तो क्या होगा
कांग्रेस के इतिहास में शायद यह पहली बार है जो मध्यप्रदेश के टिकट वितरण के दौरान दिग्विजय सिंह पर सीधा हमला हुआ। सूत्रानुसार ज्योतिरादित्य सिंधिया ने स्पष्ट कह दिया है कि वो दिग्विजय सिंह का दखल बर्दाश्त नहीं करेंगे। उन्होंने अपने क्षेत्र से कांग्रेस को जिताने का दावा भी कर दिया है। सूत्र बता रहे हैं कि दिग्विजय सिंह ने भी इस मामले को अपनी प्रतिष्ठा का प्रश्न बना लिया है। सवाल यह है कि यदि दोनों अपने अपने स्टेंड पर डटे रहे तब क्या होगा। क्या चुनाव के मुहाने पर खड़ी कांग्रेस बिखर जाएगी। 
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com