होली के साथ महिला भी जल गई, किसी को पता ही नहीं चला | CRIME NEWS

Saturday, March 3, 2018

कानपुर। कानपुर देहात के मूसानगर थाना क्षेत्र में होली में एक महिला की जली हुई लाश मिली है। बताया जा रहा है कि महिला का मानसिक संतुलन ठीक नहीं था। पुलिस हत्या या आत्महत्या दोनों पहलुओं को ध्यान में रख जांच कर रही है। शव को पीएम के लिए भेजा है। स्थानीय लोगों से मिली जानकारी के अनुसार गुरुवार रात होलिका दहन किया था। शुक्रवार सुबह जब लोग होली की राख लेने पहुंचे तो वहां का नजारा देख हर कोई शॉक्ड रह गया। किसी को यकीन नहीं हो रहा था कि रात में हमने जिस होली को जलाया सुबह उसमें लाश दिखेगी।

कानपुर देहात के मूसानगर थाना क्षेत्र स्थित गुलौली गांव में मृतक महिला का मायका था। केशव सिंह की बेटी सीमा की 7 साल पहले जालौन जिले में रहने वाले पुष्पेन्द्र से शादी हुई थी। सीमा का मानसिक संतुलन ठीक नहीं था। पति ने बताया, सीमा पर भूत-प्रेत का प्रकोप था। 15 दिन पहले उसे कानपुर देहात स्थित बाला जी के मंदिर में दिखाने के लिए मायके भेजा था। जानकारी के मुताबिक, सीमा बीते गुरुवार शाम 7 बजे घर से निकली थी और शुक्रवार को उसका शव होली में जला हुआ मिला। मृतका के भाई मुखेंद्र सिंह ने बताया, होली में जिसका शव मिला है, वो मेरी बहन है। गुरुवार को होली जलने से पहले वो बिना बताये निकली थी।

बहन को मैं और मेरा पूरा परिवार रातभर ढूंढते रहे लेकिन उसका कुछ पता नहीं चला। जब होली जली थी तो इसी होली में मैं पूजा करने के लिए आया था लेकिन मुझे क्या पता था कि यही होली मेरी बहन की चिता बनी हुई है। पूजा करने के दौरान मन में बड़ी बेचैनी थी। शुक्रवार को लोग जली हुई होली की राख लेने पहुंचे तो देखा कि उसमें बहन का शव पड़ा है।

मृतका के पति पुष्पेन्द्र के मुताबिक, मेरी पत्नी को भूत-प्रेत का चक्कर था। कई जगह झाड़फूंक कराया लेकिन कोई सुधार नहीं हुआ। 6 महीने से उसे दिक्कत थी। सास ने कहा था, बेटी को गुलौली भेज दो, यहां बाला जी का मंदिर है, वहां पर भूत प्रेत उतारे जाते हैं। इसलिए मैंने उसे 15 दिन पहले मायके भेजा था। हमारे बीच कभी झगड़ा नहीं होता था, वो बच्चों को बहुत प्यार करती थी।

मूसानगर थानाध्यक्ष भीमसिंह पुनिया के मुताबिक, होलिका में महिला का जला शव मिला है। परिजनों का कहना है, महिला मानसिक रूप से बीमार थी। उसके शव का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। फिलहाल अभी तक परिजनों की तरफ से तहरीर नहीं मिली है। लेकिन हम अपने स्तर पर मामले की जांच कर रहे हैं।

मौत पर खड़े हो रहे कई सवाल...
1 - आग लगने के बाद महिला ने चीखी-चिल्लाई क्यों नहीं?
2 - सैकड़ों की भीड़ ने आग में जल रही महिला को क्यूं नहीं देखा?
3 - ये भी तो हो सकता है कि महिला को पहले ही मारकर उसमें डाल दिया गया हो?
4- परिजनों ने महिला के घर से गायब होने की सूचना पुलिस को क्यों नहीं दी?

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें

mgid

Loading...
 
Copyright © 2015 Bhopal Samachar
Distributed By My Blogger Themes | Design By Herdiansyah Hamzah