EPS के बारे में EPFO का नया ऐलान

नई दिल्ली। (Employees' Pension Scheme (EPS)) कर्मचारी पेंशन योजना का फायदा अब उन कर्मचारियों को भी मिलेगा जो साल भर में बस कुछ ही दिन के लिए काम करते हैं। ऐसे कर्मचारियों को मौसमी कामगार कहा जाता है। कुछ फैक्ट्रियां एवं उद्योग ऐसे हैं जो साल में कुछ दिनों के लिए संचालित किए जाते हैं। ना तो यह फैक्ट्रियां साल भर चलती है और ना ही उनके कर्मचारी साल भर नौकरी करते हैं। कर्मचारी भविष्य निधि संगठन का कहना है कि ऐसे सभी कर्मचारियों को EPS का लाभ दिया जाएगा।

EPFO के मुताबिक, ईपीएस (Employee Pension Scheme) के मौसमी कामगार पेंशन पाने के हकदार हैं। EPFO ने ट्वीट के जरिए बताया कि अगर आप इनमें से किसी भी मौसमी फैक्टरी और संस्थानों में एक साल में भले ही कुछ समय के लिए काम किया है तो आप 10 वर्षों की सदस्यता के बाद पेंशन के पात्र होंगे। यानी कि हो सभी कर्मचारी पेंशन योजना का लाभ पाने के लिए हकदार होंगे। 

किन उद्योगों में काम करने वाली आंशिक कर्मचारियों को भी पेंशन का लाभ मिलेगा

EPFO ने बताया है कि किन उद्योंगों और सेक्टरों काम करने वाले मौसमी कामगारों को इसका फायदा मिलेगा। ईपीएफओ के मुताबिक चाय, चीनी, तारपीन, रबड़, नील, तेल मिलिंग, लाइसेंस वाला नमक, पटसन की गाठें बनाना एवं दबाना, रोजिन, पटाखे, बर्फ, फल, आइसक्रीम उद्योग, चावल मिलिंग, दाल मिलिंग, काजू उद्योग, तंबाकू, टाईल, होजरी, फल परिरक्षण, सब्जी परिरक्षण, इलायची बागान, काली मिर्च का खेत, कहफी बागान, चाय बागान आदि प्रमुख हैं।