DAVV INDORE NEWS- कुलपति छुट्टी पर हो तब भी डिग्री जारी हो जाएगी, स्टूडेंट्स को चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे

Devi Ahilya Vishwavidyalay Indore
की डिग्री पर कुलपति के हस्ताक्षर को लेकर विद्यार्थियों को इंतजार नहीं करना होगा। देवी अहिल्या विश्वविद्यालय (डीएवीवी) जल्द ही नई व्यवस्था करने में जुटा है। इसके तहत यूनिवर्सिटी से जारी होने वाली डिग्री पर कुलपति के डिजिटल सिग्नेचर होंगे। कार्यपरिषद ने मंजूरी दे दी है और सॉफ्टवेयर में डिजिटल साइन अपलोड करना बाकी है। सरकारी सिस्टम है इसलिए डिजिटल साइन अपलोड करने में जनवरी के 15 दिन खर्च कर दिए जाएंगे। फरवरी से डिजिटल साइन वाली डिग्री का वितरण शुरू हो जाएगा।

DAVV INDORE की डिग्री में सिक्योरिटी फीचर्स जोड़े

चार साल पहले देवी अहिल्या विश्वविद्यालय ने अपनी डिग्रियों का प्रारूप बदला था। पहले हिन्दी और अंग्रेजी भाषा में अलग-अलग डिग्रियां मिलती थी। इसके लिए विद्यार्थियों को 400-500 रुपये देना पड़ते थे। इसके बाद विश्वविद्यालय ने 2017 में डिग्री का प्रारूप बदल दिया। अब हिन्दी और अंग्रेजी भाषा की एक ही डिग्री रहती है। बकायदा इसके लिए विश्वविद्यालय को सिर्फ 300 रुपये देना पड़ते है। यहां तक विश्वविद्यालय ने सिक्यूरिटी से जुड़े फीचर भी डिग्री में जोड़े है। जैसे वाटर मार्क, क्यूआर कोड, स्पेशल पेपर सहित कई फीचर शामिल है। अधिकारियों के मुताबिक डिग्री को अपडेट करने का काम किया जा रहा है। वे बताते है कि डिग्री के बाद अब अंकसूची में भी बदलाव किया जाएगा। इसके लिए विश्वविद्यालय में मंथन शुरू हो चुका है।

कुलपति डा. रेणु जैन के कारण 700 डिग्रियां पेंडिंग

कुलपति डा. रेणु जैन के हस्ताक्षर की वजह से विद्यार्थियों की डिग्रियां अटकी है। बीते एक महीने में 500 से 700 डिग्रिया पर हस्ताक्षर होना बाकी है। कुलपति की व्यवस्ता की वजह से यह स्थिति बनी है। जल्द डिग्रियां लेने के लिए विद्यार्थी बार-बार अधिकारियों के चक्कर लगाने को मजबूर है।मगर उन्हें खाली हाथ लौटना पड़ रहा है। नियमानुसार आवेदन करने के पंद्रह दिन के भीतर विश्वविद्यालय को डिग्री जारी करना होती है।