MP NEWS- भिंड में बिजली कंपनी का JE रिश्वत लेते गिरफ्तार, EOW ग्वालियर की कार्रवाई

भिंड।
मध्य प्रदेश के भिंड जिले में मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के जूनियर इंजीनियर को ईओडब्ल्यू ने रंगे हाथ रिश्वत लेते पकड़ा। जेई ने निजी अस्पताल के बिल संबंधी मामले में पचास हजार की रिश्वत की मांग की थी। 

दरअसल निजी अस्पताल के संचालक आशुतोष शर्मा द्वारा ईओडब्ल्यू ग्वालियर को बीते दिनों शिकायत की गई थी कि मध्य प्रदेश मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी भिंड में तैनात जूनियर इंजीनियर अरुण सैनी द्वारा उनको बकाया बिजली बिल का भुगतान करने के बाद भी चोरी के केस में फंसाने की धमकी देकर पचास हजार रुपये की मांग की जा रही है।

भिंड में मल्टी स्पेशलिटी हॉस्पिटल का मैनेजमेंट संभालने वाले आशुतोष ने ईओडब्ल्यू से शिकायत की थी कि बिजली कंपनी के जूनियर इंजीनियर अरुण सैनी पर 50 हजार रुपये की रिश्वत मांगने की शिकायत की थी। आवेदक ने बताया कि अरुण सैनी ने चेतावनी दी थी कि रिश्वत नहीं देने पर उनके खिलाफ बिजली चोरी का प्रकरण बना देंगे।

आशुतोष शर्मा की शिकायत पर ईओडब्लू की टीम ने पहले बातचीत को रिकॉर्ड करवाया और आज मौके पर पहुंचकर बिजली विभाग ऑफिस में फरियादी आशुतोष शर्मा से पचास हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए जूनियर इंजीनियर अरुण सैनी को रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। जब उनके हाथ धुलवाए गए तो पचास हजार रुपये के नोटों का बंडल हाथ में लेने के चलते उनके हाथों से लाल रंग निकलने लगा। जिससे साबित हो गया कि उन्होंने ईओडब्ल्यू द्वारा दिए गए. वहीं पचास हजार रुपये रिश्वत में लिए हैं, और ईओडब्ल्यू टीम द्वारा कार्रवाई जारी है।