Loading...    
   


अतिथि ‍शिक्षकों की भर्ती में भी चॉइस फिलिंग होनी चाहिए - khula khat

मध्‍यप्रदेश के स्‍कूलों में अति‍थि ‍शिक्षक व्‍यवस्‍था ‍विगत 13 वर्षो से ‍निरंतर चल रहीं है किन्‍तु इस व्‍यवस्‍था में सुधार करने की ‍किसी भी नेता या अधिकारी ने नहीं सोचा। आज वर्तमान समय में अतिथि शिक्षक भर्ती में सुधार करने की आवश्‍यकता है ‍जिससे सही व्‍यक्ति को अतिथि शिक्षक के पद पर चयनित किया जाये और उसे सेवा का लाभ मिल सके। 

वर्तमान अतिथि ‍शिक्षक व्‍यवस्‍था में भाई भतीजाबाद का अंदेशा हमेशा बना रहता है। अब सरकार को नीति तैयार कर अनुभव को वरीयता देते हुए चयन प्रि‍क्रिया तैयार करना चाहिये। विगत वर्ष चयन प्रक्रिया में पूर्णत न्‍याय नहीं हुआ संस्‍था प्रमुख द्वारा मनमाने ढंग से भर्ती की गई और सरकार ने इस सत्र में उन्‍हीं अतिथि को नियुक्ति देने का आदेश दे ‍दिया जबकि चयन प्रि‍क्रिया इस प्रकार होनी चाहिये थी।

 अतिथि शिक्षक चयन प्रक्रिया व ( choice filling)

अति‍थि शिक्षक चयन प्रक्रिया में एजुकेशन पोर्टल के माध्‍यम से Online Application  फार्म मंगाये जाने चाहिये ‍जिससे सभी रजिस्‍टर्ड आवेदक आवेदन कर सके और अपने मनपसंद नजदीकी स्‍कूल का चयन च्‍वाइस फींलिंग (choice filling)  के माध्‍यम से कर सके। आवेदक का स्‍कोर कार्ड तैयार किया जाना चाहिये जिसमें कार्य अनुभव के अंक जोडकर मैरिट सूची तैयार की जानी चाहिये। 

स्‍कोर कार्ड कैसा होना चाहिये

स्‍कोर कार्ड तैयार करने के लिये आवेदक की शैक्षणिक योग्‍यता के अंक एवं प्रशिक्षण (अनिवार्य) को ध्‍यान में रखते हुए अनुभव के अंक प्रति सत्र के आधार पर score card तैयार किये जाने चाहिये जिसमें कम से कम 100 दिन अध्‍ययापन का एक सत्र माना जाना चाहिये, इस प्रकार विगत 10 वर्ष के 100 बोनस अंक स्‍कोर कार्ड में जोडे जाने चाहिये। 

नियुक्ति प्रत्र एजुकेशन पोर्टल से जनरेट हो

आवेदक का चयन रिक्‍त पद पर एजुकेशन पोर्टल के माध्‍यम से किया जाना चाहिये जिसके लिये सभी से च्‍वाइस फीलिंग कराई जानी चाहिये और एक आवेदक का चयन एक ही स्‍कूल में होना चाहिये जिसका नियुक्ति पत्र शिक्षा पोर्टर के माध्‍यम से जारी होना चाहिये। यदि Allotment Latter एक पद के लिये एक व्‍यक्ति का होता है तो इससे भाई भतीजावाद समाप्‍त हो जाएगा और संस्‍था प्रमुख की तानाशाही समाप्‍त हो जायेगी सभी का चयन निष्‍पक्ष होगा।

प्रदेश सरकार से हमें आशा ही नहीं विश्‍वास भी है कि निष्‍पक्ष अतिथि शिक्षक भर्ती प्रक्रिया अपनाकर वयवस्‍था को सुधारेगे व वर्तमान में चल रही शिक्षक भर्ती प्रक्रिया में अतिथि शिक्षकों को आरक्षण के स्‍थान पर अनुभव के आधार पर बोनस अंक देकर चयन प्रक्रिया पूर्ण करेंगे।
कैलाश विश्वकर्मा
अति‍थि शिक्षक मध्‍यप्रदेश 

18 दिसम्बर को सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार



भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here