Loading...

अरुण जेटली CANCER से पीड़ित, अमेरिका गए, BUDGET पेश नहीं करेंगे | NATIONAL NEWS

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी के दिग्गज नेता एवं नरेंद्र मोदी सरकार के वित्त मंत्री ARUN JAITLEY को सॉफ्ट टिश्यू सरकोमा नाम का एक दुर्लभ किस्म का कैंसर होने का पता चला है। वे इलाज के लिए अमेरिका चले गए हैं। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह स्वाइन फ्लू से पीड़ित होकर AIMS में भर्ती हैं। जेटली का केंसर उस समय सामने आया जबकि वित्त मंत्रालय में अंतरिम बजट की तैयारियां जोरों पर हैं। यह मोदी सरकार के कार्यकाल का अंतिम बजट है। एक सूत्र ने बुधवार को बताया कि जेटली संभवत: 1 फरवरी को अंतरिम बजट पेश नहीं कर पाएंगे। 31 जनवरी से बजट सत्र शुरू हो रहा है। 


पीयूष गोयल बजट पेश करेंगे / Piyush Goyal will present the budget !

66 साल के जेटली का पिछले साल 14 मई को एम्स में गुर्दा प्रत्यारोपण हुआ था। रविवार को उनके अमेरिका रवाना होते वक्त माना गया था कि वह गुर्दे की बीमारी से जुड़ी जांच के लिए ही गए हैं। उनकी वापसी की तारीख को लेकर अभी कोई जानकारी साफ नहीं है। गुर्दा प्रत्यारोपण के बाद जेटली के ऑफिस में लौटने तक रेल मंत्री पीयूष गोयल ने वित्त मंत्रालय का कार्यभार संभाला था। सितंबर 2014 में जेटली की बैरियाट्रिक सर्जरी भी हुई थी। 


क्या है सॉफ्टटिश्यू सरकोमा / What is softness sarcoma ?

सरकोमा कैंसर का ही एक प्रकार है, जो कि हडि्डयों या मांसपेशियों जैसे टिश्यू में शुरू होता है। सॉफ्ट टिश्यू सरकोमा के 50 से ज्यादा प्रकार होते हैं। आमतौर पर यह बाजुओं या पैरों में शुरू होता है। कुछ खास रसायनों के संपर्क में आने, रेडिएशन थैरेपी करवाने या कुछ आनुवंशिक रोग होने की वजह से इसका जोखिम बढ़ जाता है।

शाह को सीने में दर्द और सांस लेने में तकलीफ थी / Shah had difficulty in chest chest and breathing

शाह को रात करीब नौ बजे सीने में दर्द और सांस लेने में तकलीफ की शिकायत थी। फिर उन्हें अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में भर्ती कराया गया है। केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह, रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा, बिहार से लोकसभा सांसद रामकृपाल यादव ने शाह के जल्द स्वस्थ होने की कामना की है।