भाजपा के राज में दलितों को मिला सम्मान: मंत्री आर्य का दावा | MP NEWS

Tuesday, January 2, 2018

गुना। कांग्रेस दलित विरोधी पार्टी है और भाजपा दलित हितेषी है। कांग्रेस ने 1952 में डॉ. भीमराव अंबेडकर को हराया था, जबकि भाजपा ने बाबा साहब अंबेडकर की जन्मस्थली का विकास किया, उनकी प्रतिमाएं लगाईं। कांग्रेस श्रीमती इंदिरा गांधी और पं. नेहरु के नाम पर शासन की योजनाएं चलाती रही। जबकि भाजपा ने बाबा साहेब के नाम को आगे बढ़ाया है। सही मायनों में भाजपा ही दलित हितैषी पार्टी है। यह बात प्रदेश के सामान्य प्रशासन राज्य मंत्री लालसिंह आर्य ने अनुसूचित जाति मोर्चा की प्रदेश कार्यसमिति बैठक के उद्घाटन सत्र को संबोधित करते हुए कही।

इस मौके पर राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्री रमेशचंद्र रतन, प्रदेश अध्यक्ष श्री सूरज केरो सहित प्रदेश कार्यसमिति के सदस्य विधायक नगर मंडल के अध्यक्ष आदि उपस्थित थे। श्री आर्य ने बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि मेरा नाम किसी अपराध में नहीं था, इसके बाद भी कांग्रेस ने एक षड्यंत्र रचा। एनएसयूआई ने मेरे नाम के पोस्टर चिपकाए। लेकिन इस कठिन परिस्थिति में मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चैहान और प्रदेश अध्यक्ष श्री नंदकुमारसिंह चौहान ने मेरा साथ दिया। कोर्ट से मुझे न्याय मिला। इसके लिए मैं मुख्यमंत्री और पार्टी का आभारी हूं। उन्होंने कहा कि कुछ लोग भारतीय संस्कृति को लेकर भ्रम पैदा कर रहे हैं, उनसे हमें सावधान रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि लोगों ने कई संगठन बना लिए हैं, वह समाज में भ्रम फैला रहे हैं। जो हमारी संस्कृति के खिलाफ हैं। उनसे हम सावधान रहें। उन्होंने कार्यकर्ताओं को संगठन का पाठ पढ़ाते हुए कहा कि संगठन का विस्तार न तो नारों से होता है और न पदों से संगठन विस्तार के लिए संपर्क प्रवास और संवाद, संयम आदि गुण कार्यकर्ता के अंदर होना चाहिए। जो लोग परिश्रम की पराकाष्ठा करते हैं, वही आगे बढ़ते हैं।

इस अवसर पर प्रदेश अध्यक्ष श्री सूरज केरो ने कार्यसमिति की कार्ययोजना की विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने कहा कि केंद्र और प्रदेश सरकार ने अनुसूचित जाति वर्ग के कल्याण के लिए लगभग पौने दो सौ योजनाएं संचालित की है। हम लोग उन योजनाओं को लाभ लेकर आगे बढे़।

दूसरे सत्र में मोर्चा द्वारा राजनीतिक प्रस्ताव पेश किया गया जिसमें प्रदेश सरकार द्वारा अनुसूचित जाति कल्याण के लिए चलाई जा रहीं तमाम योजनाओं के लिए धन्यवाद ज्ञापित किया। प्रस्ताव में कहा गया कि प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चैहान के नेतृत्व में अनुसूचित जाति वर्ग के मान सम्मान स्वाभिमान की रक्षा उनके कल्याणकारी एवं विकास को सरकार ने प्राथमिकता से लिए है। इसके लिए वह धन्यवाद के पात्र हैं। राजनीतिक प्रस्ताव पूर्व विधायक श्री गौतम टेंटवाल ने रखा। इसका समर्थन श्रीमती मोहनी शाक्यवार, श्री दिलीप वंशकार, श्री मनीष राजोरिया ने किया।

इस अवसर पर पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री नारायण सिंह केशरी, विधायक श्री प्रदीप लारिया, श्री बुद्धसेन पटेल, जिलाध्यक्ष श्री राधेश्याम पारीक, विधायक श्री पन्नालाल शाक्य, श्री राजेंद्र सलूजा, विधायक श्री घनश्याम पिरोनिया, श्री जितेंद्र मालवीय, श्री नारायण प्रसाद कबीर पंथी, श्री भुजबल अहिरवार, श्री जटाशंकर करोसिया, श्री रमेश मालवीय उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन मुकेश टेंटवाल ने किया।

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

mgid

Loading...

Popular News This Week

 
Copyright © 2015 Bhopal Samachar
Distributed By My Blogger Themes | Design By Herdiansyah Hamzah