मध्य प्रदेश के 3 संभागों में बारिश की संभावना क्योंकि राजस्थान में बादल बन रहे हैं - MP WEATHER FORECAST

भोपाल। 
सैकड़ों लोगों को हार्ट अटैक से मौत देने के बाद मध्यप्रदेश में बर्फीली हवाएं चलना बंद हो गई हैं, लेकिन इसका मतलब यह कतई नहीं है कि ठंड खत्म हो गई है। राजस्थान के पश्चिमी इलाके में बादल बनने की प्रक्रिया शुरू हुई है। मौसम विशेषज्ञों का कहना है कि मध्य प्रदेश तक आएंगे। मध्य प्रदेश के 3 संभागों में बारिश होने की संभावना जताई गई है। 

वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक पीके शाह का कहना है कि दिनांक 2 फरवरी 2022 को एक नया सिस्टम बन गया है। राजस्थान के पश्चिमी इलाके में चक्रवात उठेगा। इस चक्रवात का असर मध्य प्रदेश के तीन संभागों (जबलपुर, शहडोल और रीवा) पर सबसे ज्यादा दिखाई देगा। तीनों संभागों के जिलों में बारिश होने की प्रबल संभावना है। श्री पीके शाह ने बताया कि बादल के कारण तापमान बढ़ेगा परंतु बादल के जाते ही एक बार फिर कड़ाके की ठंड शुरू हो जाएगी। 

राजधानी भोपाल तक दिखेगा चक्रवात का असर 

शाह ने बताया कि राजस्थान के चक्रवात का असर मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल तक दिखाई देगा। भोपाल में बारिश नहीं होगी परंतु ठंडी हवाओं के कारण तापमान गिरेगा। रात के तापमान में ज्यादा गिरावट होगी। जिसके कारण ठंड बढ़ जाएगी। मौसम विशेषज्ञ ने ठंड के वापस लौटने की तारीख 5 फरवरी 2022 बताई है। मध्य प्रदेश की महत्वपूर्ण खबरों के लिए कृपया mp news पर क्लिक करें.