RSS चीफ मोहन भागवत ने बताया 'युद्ध' कब और कैसा | NATIONAL NEWS

Saturday, February 3, 2018

बैतूल। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक मोहन भागवत ने कहा है कि 'एक बार में एक ही से युद्ध करना चाहिए, एक को परास्त करने के बाद दूसरे से युद्ध करना चाहिए। वैसे दुष्टों से हमें लड़ने की जरूरत नहीं है।' भागवत मध्यप्रदेश के बैतूल स्थित भारत भारती आवासीय विद्यालय के वार्षिकोत्सव में हिस्सा लेने यहां आए हैं। भागवत ने एक कहानी के जरिए कहा कि, 'युद्ध शास्त्र एक बार में एक से ही युद्ध करने की शिक्षा देता है, एक साथ दो से युद्ध नहीं करना चाहिए। ऐसा इसलिए क्योंकि एक व्यक्ति एक से ही अच्छे से लड़ाई लड़ सकता है। जब एक को परास्त कर दो, वह मर रहा हो तो उससे अपना बचाव करते हुए आगे बढ़ जाओ।'

उन्होंने आगे कहा कि, 'दुनिया में दुष्ट हैं और वे सज्जनों से लड़ते हैं, हमें दुष्टों से नहीं लड़ना है, क्योंकि अगर हम ठीक हैं तो हमारा कोई कुछ नहीं कर सकता है। उन्होंने कहा, 'शिक्षा हमारे पेट भरने के लिए नहीं है वह लक्ष्य देते हुए अर्थपूर्ण जीवन बनाती है, शिक्षा, ज्ञान-विज्ञान का विकास करती है। 

वास्तविक मनुष्य वही बनता है, जो पहले अपने को जान लेता है। भागवत बैतूल के तीन दिवसीय प्रवास पर आए हैं। वे यहां भारत भारती के तीन दिवसीय ग्राम विकास मिलन कार्यक्रम में हिस्सा लेने आए हैं। इस आयोजन में देशभर से 400 से ज्यादा प्रतिनिधि पहुंचे हैं।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Popular News This Week