किसानों को ओलावृष्टि से हुए ​नुक्सान का मुआवजा मिलेगा: शिवराज सिंह | MP NEWS

Sunday, February 11, 2018

भोपाल। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने ओलावृष्टि प्रभावित क्षेत्रों के कलेक्टरों को तत्काल फसल हानि का आकलन कराने के निर्देश दिये हैं। श्री चौहान ने प्रदेश के कई जिलों में ओलावृष्टि होने की सूचना मिलने पर संबंधित जिलों के कलेक्टरों से जानकारी प्राप्त की। बता दें कि आज मध्यप्रदेश के अधि​कतम हिस्सों में ओलावृष्टि हुई है। किसानों की खड़ी फसलें चौपट हो गईं हैं। 

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने किसान भाईयों को आश्वस्त किया है कि ओलावृष्टि से फसलों की क्षति की भरपाई की जायेगी। उन्होंने कहा है कि किसान भाई चिंता नहीं करें। संकट की घड़ी में सरकार सदैव की तरह उनके साथ है।मुख्यमंत्री ने ओलावृष्टि से प्रभावित जिलों के कलेक्टरों को निर्देश दिए हैं कि फसल के नुकसान के मूल्यांकन के लिये तत्काल टीमें भेजकर हानि का आकलन करवायें ताकि समय पर किसानों को उचित मुआवजा दिया जा सके।

किसान सम्मेलन रद्द करें, 500 करोड़ किसानों में बांट दें
नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह ने कहा कि सरकार किसान महासम्मेलन करने की बजाय सम्मेलन में होने वाले खर्च 500 करोड़ किसानों को राहत देने में लगाए. बता दें कि, रविवार को राजधानी भोपाल समेत प्रदेश के कई जिलों में ओलावृष्टि हुई है. तेज आंधी के साथ हुई ओलावृष्टि से खिड़की और दरवाजों के कांच तक टूट गए. घर की छतों पर ओले की परतें जमा हो गईं. इस बारिश और ओलावृष्टि से किसानों को काफी नुकसान पहुंचा है. मौसम विशेषज्ञों का कहना है कि इस बारिश से फसलों को भारी नुकसान होगा. ये ओलावृष्टि फसलो को नुकसान पहुंचा सकती है.

गौरतलब है कि सोमवार को राजधानी भोपाल के जम्बूरी मैदान में किसान महासम्मेलन होने जा रहा है. हालाकि बारिश के कारण महासम्मेलन का आयोजन होने से पहले ही व्यवस्थाओं को भारी नुकसान पहुंचा. दरअसल, रविवार को हुई तेज बारिश और ओले गिरने की वजह से बड़े-बड़े पंडाल गिर गए. स्वागत गेट के साथ रसोईघर, होर्डिंग्स, पोस्टर को भी नुकसान पहुंचा. सारी व्यवस्थाएं पूरी तरह से प्रभावित हेा गईं.

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Popular News This Week