मंत्री जालम सिंह पटेल: पुलिस बता रही है फरार, उपचुनाव में खुलेआम कर रहे हैं प्रचार | MP NEWS

Tuesday, February 13, 2018

भोपाल। भाजपा के विधायक जालम सिंह पटेल को सीएम शिवराज सिंह ने आचार संहिता के दौरान मंत्री बना दिया। इतना ही नहीं जालम सिंह को उपचुनाव में प्रचार के लिए भी भेज दिया गया। विचार मध्यप्रदेश के प्रतिनिधिमंडल ने इस पर कड़ी आपत्ति जताई है। विचार का कहना है कि पुलिस को 2 गंभीर मामलों में विधायक की तलाश है। बावजूद इसके वो खुलेआम घूम रहे हैं। उन्हे गिरफ्तार नहीं किया जा रहा। 

विचार मध्यप्रदेश के प्रतिनिधिमंडल ने आज मुख्य चुनाव आयुक्त सलीना सिंह से मुलाकात कर इस मुद्दे पर शिकायत दी। प्रतिनिधिमंडल में पूर्व विधायक गिरिजा शंकर शर्मा, पूर्व विधायक पारस सकलेचा, पूर्व APCCF आज़ाद सिंह डबास, पूर्व ADGP विजय वाते, कोर समिति सदस्य विनायक परिहार और अक्षय हुंका शामिल थे। शिकायत में बताया गया कि उपचुनाव की आचार संहिता की अवधि मे मप्र के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दिनांक 3 फरवरी को अपने मंत्रिमंडल का विस्तार किया जिसमें जबलपुर एसआईटी द्वारा जांच किये जा रहे दो आपराधिक मामलों मे फरार आरोपी विधायक जालमसिह पटेल को भी शामिल किया गया है।

बताया गया है कि मंत्री जालमसिंह पटेल को दो मामलों में एसआईटी जबलपुर तलाश कर रही है। पहला मामला दिसम्बर 2014 मे गोटेगांव थाना मे अप.क्र. 716/14 धारा 147, 148, 149, 294, 506, 307 भा.द.वि. एवं 25/27 आर्म्स एक्ट का है। वहीं दूसरा मामला भी दिसम्बर 2014, गोटेगांव थाना मे अप. क्र. 717/14 धारा 147, 148, 149, 307,186, 353, 332  का है जिसमे भी एस आई टी मंत्री जालम सिह पटेल की तलाश कर रही है।

मंत्री बनने के बाद जालमसिंह पटेल ने मप्र मुख्यमंत्री के साथ विधानसभा उपचुनाव मे भाजपा प्रत्याशी के पक्ष मे चुनावी रैली ओर सभा मे भी भाग लिया। स्पष्ट तौर पर मप्र के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान चुनाव आचार संहिता की अवधि में एक फरार आरोपी को मंत्रीमंडल में शामिल कर चुनावों को प्रभावित करना चाहते है।

प्रतिनिधिमंडल ने मांग की है कि मप्र के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन का मामला दर्ज किया जाये। आपराधिक मामलों मे फरार मंत्री जालमसिंह पटेल का मुंगावली ओर कोलारस विधानसभा क्षेत्र मे प्रवेश रोका जाये ओर मंत्री जालमसिंह पटेल को तत्काल गिरफ्तार किया जाये।

इस संदर्भ में मंत्री जालम सिंह पटेल से चर्चा करने का प्रयास किया गया परंतु उनके निजी सचिव की ओर से बताया गया कि वो बैठक में हैं। हमें जैसे ही उनकी प्रतिक्रिया प्राप्त होगी, इसी स्थान पर प्रकाशित की जाएगी। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Popular News This Week