जयभान सिंह का नाम आते ही नरेंद्र सिंह तोमर ने भी इच्छा जता दी | MP NEWS

Friday, February 2, 2018

भोपाल। मध्यप्रदेश भाजपा में प्रदेश अध्यक्ष की तलाश जारी है। राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह कई नामों पर विचार कर रहे हैं। करीब आधा दर्जन नेताओं के नाम सुर्खियों में है। पिछले दिनों इस लिस्ट में जयभान सिंह पवैया का नाम भी जुड़ गया। इसी के साथ 2 बार प्रदेश अध्यक्ष रह चुके केंद्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने भी इच्छा जता दी। हालांकि उन्होंने शब्दों में कुछ नहीं कहा परंतु एक मीडिया हाउस को दिए इंटरव्यू में उनके शब्दों का अर्थ काफी स्पष्ट निकलकर आ गया। 

शिवराज और मैं 2 जिस्म एक जान
केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को लेकर कहा कि सीएम शिवराज सिंह और मैं दो जिस्म एक जान हैं। दोनों के पास दायित्व जो भी हो मेरी और शिवराज सिंह की जोड़ी हमेशा ही बनी रहेगी।

मध्यप्रदेश में कंधे से कंधा मिलाकर काम करूंगा
केंद्रीय मंत्री ने कहा कि अगले चुनाव में जो अध्यक्ष रहेंगे, वह भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता ही रहेंगे और मैं कंधे से कंधा मिलाकर पार्टी के साथ काम करूंगा। उन्होंने दावा किया है कि मध्यप्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव में भी भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनेगी।

दिल्ली में बैठे-बैठे मप्र की नौकरशाही से संपर्क
नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि मध्यप्रदेश के काम की समीक्षा वे दिल्ली में बैठे-बैठे ही कर लेते हैं। उन्होंने कहा कि सामान्य तौर पर जब भी किसी प्रांत में जाता हूं तो समीक्षा जरूर करता हूं। मध्य प्रदेश के बारे में लगातार बातचीत मुख्यमंत्री से होती रहती है। साथ ही उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश के अधिकारियों से भी बातचीत होती रहती है। तोमर ने कहा कि यहां के अधिकारी अक्सर दिल्ली भी आते रहते हैं, इसलिए मेल मुलाकात होती रहती है। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि मध्य प्रदेश में ग्रामीण विकास की दृष्टि से गतिविधि ठीक चल रही है। हालांकि उन्होंने यह स्पष्ट नहीं किया कि, आगामी चुनाव से पहले क्या वे फिर से प्रदेश अध्यक्ष की कमान संभालने के इच्छुक हैं या नहीं। 

इस तरह किया इशारा
उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और नरेंद्र सिंह तोमर की जोड़ी ने ही पिछले दो चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को अपनी रणनीति के द्वारा सफलता दिलाई है। उल्लेखनीय है कि साल 2013 में भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष प्रभात झा हुआ करते थे, लेकिन चुनाव से ठीक पहले झा को प्रदेश अध्यक्ष पद से हटाकर, नरेंद्र तोमर को दायित्व सौंपा गया था और फिर से प्रदेश अध्यक्ष का दायित्व आने के बाद सीएम और नरेंद्र तोमर की जोड़ी ने 2013 में भी बीजेपी की सरकार बनाने में सफलता हासिल की थी। इस जोड़ी ने वर्ष 2008 और 2013 के चुनाव में नरेंद्र सिंह तोमर के अध्यक्ष रहते हुए जीत हासिल की थी।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Popular News This Week