मां-बेटी का रेप कर, उसी बिस्तर पर जिंदा जला दिया, नग्न मिली बेटी | CRIME NEWS

Wednesday, February 7, 2018

अमृतसर। गोल्डन गेट के पास दर्शन एवेन्यू में मां-बेटी गगनदीप वर्मा (41) और शिवनैनी वर्मा (21) की घर में हत्या कर दी गई। सबूत मिटाने के लिए आग लगा दी गई। गगनदीप की बॉडी पूरी तरह जल चुकी थी, जबकि बेटी शिवनैनी की बॉडी 25 फीसदी जली हालत में बरामद हुई। उसके हाथ-पैर बंधे हुए थे, शरीर पर एक भी कपड़ा नहीं था, जिससे आशंका जताई जा रही है कि रेप के बाद हत्या की गई। पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ कत्ल का केस दर्ज किया है।

गगनदीप वर्मा जंडियाला के सरकारी कन्या स्कूल में क्लर्क थीं। बेटी शिवनैनी ने हाल ही में बीकाॅम की पढ़ाई पूरी की थी। रात को करीब दो बजे पड़ोस में रहने वाले किसी व्यक्ति ने उनके घर आग की लपटें देखीं। शोर मचाकर आस-पड़ोस वालों को इकट्ठा किया। गगनदीप की दो शादियां हुई थीं, दोनों टूट चुकी थीं। पुलिस ने बताया कि दो साल पहले ही गगनदीप वर्मा ने यहां कोठी नंबर 175 खरीदी थी। कई साल पहले गगनदीप का तलाक हो चुका था। वह अपने दो बच्चों के साथ यहां रह रही थीं। बेटा रिधिम 20 दिसंबर को ही पढ़ाई करने कनाडा गया था। घर पर मां-बेटी ही रहती थीं।

वारदात जिस तरह की गई उससे लगता है 3 से 4 लोग शामिल थे। पुलिस के मुताबिक यह हत्याकांड लव-अफेयर की रंजिश के तहत हुआ लगता है। हालांकि मां-बेटी दोनों के साथ रेप हुआ, इसकी पुष्टि पोस्टमार्टम के बाद ही होगी।

पहचान वाले थे हत्यारे
हत्यारे सोमवार रात तकरीबन 9 बजे घर में पहुंचे और पौने 2 बजे तक यानी साढ़े 4 घंटे से ज्यादा वहां रुके। न तो घर के अंदर जबरन घुसने का कोई निशान है और न किसी ने घर के कुत्ते के भौंकने की आवाज सुनी इसलिए पुलिस को लगता है कि हत्यारे गगनदीप या शिवनैनी के जान-पहचान वाले थे और घर का मेनगेट खुलवाकर अंदर दाखिल हुए।

अकेले शख्स के लिए घटना को अंजाम देना संभव नहीं है इसलिए इसमें 3 से 4 लोग रहे होंगे। सबूत मिटाने के लिए उन्होंने लाशों को जलाना चाहा। अमृतसर के पुलिस कमिश्नर एसएस श्रीवास्तव ने कहा कि सुल्तानविंड थाने में धारा-302 में केस दर्ज किया गया है। एडीसीपी सिटी-वन जगजीत सिंह वालिया के नेतृत्व में सीआईए स्टाफ की टीमें मां-बेटी से जुड़े हर शख्स और चीज की बैकग्राउंड खंगाल रही है।

पानी की बौछार मारने पर खून बाहर निकला
दमकल कर्मी ने बताया सूचना के 15 मिनट बाद, करीब दो बजे हम मौके पर पहुंचे। घर का मेनगेट खुला था और अंदर दाएं कमरे के बीचोंबीच पड़े गद्दों से लपटें उठ रही थी। खाली बैड दीवार के पास पड़ा था। हमने जैसे ही अधजले गद्दे बाहर निकालकर पानी की बौछार मारी, अंदर से पानी के साथ खून बाहर आने लगा। हम समझ गए कि वहां लाश है। आग बुझने पर देखा कि जमीन पर लाश पड़ी थी। तभी पड़ोसी ने आवाज दी कि ऊपर के कमरे में भी देखो। मैं साथियों के साथ ऊपर गया तो वहां बैड के ऊपर एक लड़की की लाश पड़ी थी जिसके शरीर पर कोई कपड़ा नहीं था। लड़की के मुंह में कपड़ा ठूंसा हुआ था और उसके कुछ हिस्सों से खून रिस रहा था। उसके साथ रेप हुआ है। लाश के पास एक कुत्ता बैठा था।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Popular News This Week