इस स्कूल में छात्रों को नाली का पानी पिलाया जाता है | MP NEWS

Sunday, January 7, 2018

छतरपुर। चुनावी सभाओं में यदि आप सीएम शिवराज सिंह के भाषण सुनें तो आपको लगेगा कि आप किसी स्वर्ग में रह रहे हैं। यदि कोई समस्या है भी तो चुनाव निपटते ही दूर हो जाएगी। सीएम बार बार दावा करते हैं कि जनहित के लिए पैसे की कमी नहीं आने दूंगा परंतु यहां हालत कुछ और ही है। एक सरकारी स्कूल (GOVERNMENT SCHOOL) ऐसा है जिसके पास अपने छात्रों (STUDENTS) को पानी पिलाने के लिए मटका तक नहीं है। प्यास लगने पर छात्रों स्कूल के सामने से निकलती नाली से पानी (DRAIN WATER) पीते हैं। सवाल यह भी है कि DEO/DPC अब तक क्या कर रहे हैं। 

मामला छतरपुर जिले के राजनगर तहसील अंतर्गत ग्राम पंचायत सूरजपुरा स्थित सरकारी स्कूल का है। जहां पर स्कूल खुले में लगता ही है, साथ ही पेयजल की भी कोई व्यवस्था नहीं है। ऐसे में प्यास बुझाने बच्चे मजबूरन नाली का पानी पीते हैं। यहां आठवीं तक स्कूल हैं, स्कूल भवन भी बना हुआ है लेकिन भवन की सुपुर्दगी नहीं हो पाने से मासूम खुले में बैठते हैं। आदिवासी बाहुल्य इस गांव के बच्चों में पढ़ने की ललक तो है लेकिन सुविधाएं नहीं। यहां तक कि पेयजल के इंतजाम तक नहीं हैं। ये बच्चे इतने मजबूर हैं कि मिड-डे-मील के बाद इसी नाली में बर्तन धोते हैं हैं और इसी का पानी भी पीना पड़ता है। 

नहीं हुई है भवन की सुपुर्दगी
जिला सहायक शिक्षा अधिकारी एचएस त्रिपाठी से बात की गई तो उन्होंने कहा अभी बच्चों के पढ़ने के लिए स्कूल भवन की सुपुर्दगी नहीं हुई है, हालांकि स्कूल भवन तो बना हुआ है। नाले में पानी के बारे में कुछ भी नहीं बोला। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Popular News This Week