प्रति शिवराज, जिस दिन हम लोगों का मूड खराब हुआ तो समझ लेना | MP NEWS

Wednesday, January 17, 2018

प्रति, शिवराज सिंह चौहान मुख्य मंत्री मप्र शासन। आपके नौटंकी के कारण हम सभी पुलिस वालों ने फैसला कर लिया है कि आपको 2018 के विधानसभा ELECTION में वोट नहीं देंगे, क्योंकि आपने हमें क्या दिया है, आपके निरंकुश शासन ने हम POLICE EMPLOYEES को जिस तरह से प्रताड़ित करके रखे है आपको इसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा, हम लोग आंदोलन नहीं कर सकते हैं इसका नाजायज फायदा तुम मत उठाओ, इस प्रकार की बंधन तुम्हारे *** का समय है तुम हर हाल में मानकर चलो की तुम्हारा घमण्ड चूर करेंगे। 

जब दुनिया सो रही होती है तब हम POLICE COPS अपने बीबी बच्चों को छोड़कर दूसरों के बीबी बच्चों की रात दिन गश्त करके सुरक्षा देते हैं हम पुलिस वाले रात भर जागकर जनता की जान माल की रक्षा करते हैं। जिनके नाते रिश्तेदार POLICE DEPARTMENT में होगे वो लोग जरुर जानते है कि पुलिस को इतना कम वेतन में इतना ज्यादा ड्यूटी करनी पड़ती है। अनुशासन के नाम पर शोषण किया जाता है। एक दिन गैरहाजिर होने पर पूरे छः महीने में मिलने वाला हाफ वेतन काट दिया जाता है। पुलिस को कहां ड्यूटी नहीं करनी पड़ती है प्रधानमंत्री की सुरक्षा से लेकर एक विधायक तक की सुरक्षा जान जोखिम में डालकर देनी पड़ती है। 

किसी सड़ी हुई लाश को समेटना हो, या कोई फांसी में झूल गया हो उसे रात भर ताकना हो, शासकीय संपत्ति की सुरक्षा करने की बात हो, आगजनी हो, बाढ़ हो, कोई कट गया हो कोई मर गया हो, कोई जल गया हो, कोई जहर खा लिया हो, कोई भाग गया हो उसे ढूंढने की बात हो, अपनी जान जोखिम में डालकर खतरनाक गुंडो अपराधी को पकडना हो , 

अरे शिवराज सिंह उन पुलिस वालों से उनकी दर्द पूछो, तब समझ में आयेगा। तुम्हें क्या तुम तो निर्दयी हो, तुम्हें क्या दर्द होगा। शिवराज यदि आपको अभी भी समझ आ गया हो तो हम पुलिस वालों का ग्रेडपे सिपाही 2400 , हवलदार 2800, एएसआई 3200 करो एवं अन्य सभी भत्ते जो भी मिल रहे हैं उनका आज के समय में महंगाई के हिसाब से उचित करो, जैसे वर्दी एलाउंस 10500/-  सायकल एवं सायकल एलाउंस बंद कर, अब मोटरसाइकिल चालू करो और मोटरसाइकिल एलाउंस चालू करो, पुराने जमाने की पुलिस नहीं है। 

तुम्हारी चालाकी अब नहीं चलेगी पुलिस के दम पर तुम्हारा शासन चल रहा है। जिस दिन हम लोगों का मूड खराब हुआ तो समझ लेना सरकार तो तुम्हारी जायेगी, लेकिन जो बर्बादी छोड़कर तुम जाओगे वो राज्य की जनता के लिए अच्छा नहीं होगा। जरा शर्म करो की जब विधायकों की वेतन भत्ते बड़ाना होता है तो तुम लोग पक्ष विपक्ष एक साथ बैठ कर फटाफट बडा देते हो। हम गरीब न तो शिक्षकों, पटवारी, डाक्टर, नगरपालिका आदि विभागों जैसे धरना देते न आंदोलन करते फिर तुमको हमारी आवाज सुनाई नहीं देती। हमारी मौन होने की अवस्था को तुम बेबस मान लिए हो, शायद ये तुम्हारी सबसे बडी भूल है। 
समस्त पुलिस परिवार
यह खुलाखत (OPEN LATTER TO CM SHIVRAJ SINGH ) सोशल मीडिया पर पुलिस विभाग के कर्मचारी एवं उनके परिजन एक दूसरे को भेज रहे हैं। कुछ वाट्सएप ग्रुपों में भी इसे पोस्ट किया गया है। जबलपुर से सूरज कुमार ने इसे भोपाल समाचार डॉट कॉम तक पहुंचाया। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Popular News This Week