आकाश में बना है कालसर्प योग, आपकी राशि भी प्रभावित होगी | JYOTISH

Wednesday, January 31, 2018

जब भी राहु और केतु के मध्य समस्त ग्रह आ जाते है उसे काल सर्प योग कहा जाता है। जो की वर्तमान मॆ आकाशमंडल मॆ मकर राशि और कर्क राशि के मध्य चल रहा है। यह कालसर्प योग 6 तारीख को शुक्र ग्रह के कुम्भ राशि मॆ पहुचने के बाद हट जायेगा, क्योंकि राहु और केतु की चंगुल से एक ग्रह बाहर निकल गय़ा है।
कालसर्प योग का व्यापार और राशियों पर प्रभाव
वर्तमान मॆ सूर्य, चंद्र, शुक्र, शनि, गुरु, मंगल, बुध सभी ग्रह राहु और केतु के प्रभाव मॆ है।
शनि ग्रह चंद्र से छठे और सूर्य से बारहवें भाव मॆ है, मंगल पंचम और लाभ भाव मॆ है, जबकि गुरु महाराज सूर्य और चंद्र से केन्द्र मॆ है, इसके अनुसार व्यापार राजनीति और सभी राशियों पर निम्न प्रभाव पड़ेगा।

गुरु के केंद्रीय प्रभाव से वरिष्ठ, विद्वान, ज्ञानीजनों का केंद्रीय प्रभाव मॆ वृद्धि होगी। शनि की स्थिति कार्यक्षेत्र मॆ उन्नति के योगों मॆ वृद्धि करेगी, रोजगार, नौकरी और व्यापार के क्षेत्र मॆ सकारात्मक प्रभाव मिलेंगे। मंगल की शुभ स्थिति सेना, पुलिस के लिये शुभ परिणामदायक रहेगी। जलीय क्षेत्रों मॆ दुर्घटना के योग, सुनामी अतिवृष्टि या समुद्री तूफान से जनधन हानि का योग, समुद्री क्षेत्र मॆ तनाव और युद्द का माहौल बनेगा, उत्तर और दक्षिण दिशा मॆ समुद्र से घिरे देशों के लिये अशुभ समय।

सभी राशियों के लिये परिणाम
मेष*-इस राशि के लिये कर्मक्षेत्र मॆ विशेष परिवर्तन देखने को मिलेगा,वाहन,भवन तथा सामाजिक कार्यों मॆ षडयंत्र आदि से बचें।
मिथुन*-आर्थिक क्षेत्रों से जुड़े कार्यों मॆ विशेष सावधानी बरतें वर्तमान मॆ नवीन व्यापार आदि से दूर रहना चाहिये,आर्थिक लेनदेन मॆ सावधानी बरतें।
कर्क*-माता,स्वयं के स्वास्थय और अपनी प्रतिष्ठा का विशेष ध्यान रखें,परिवार मॆ जीवनसाथी,व्यापार मॆ साझीदारों से तनाव न बढ़ाये,समस्या का समाधान निकालें।
सिंह*-भोगविलास से दूर रहें समय रोग,ऋण शत्रु से जोखिम भरा है,बाहरी क्षेत्रों मॆ यात्रा के दौरान सावधानी बरतें,षडयन्त्रों से सावधान रहें।
धनु*-किसी भी प्रकार के षडयंत्र से सावधान रहें,इस राशि को साडेसाति का मध्यकाल तथा आठवां राहु चल रहा है,गुप्त शत्रुओं से सावधान रहें,आर्थिक मामलो मॆ सावधानी,किसी से वाद विवाद आदि न करें,यात्रा मॆ विशेष सावधानी बरतें,खानपान मॆ सतर्क रहें।
मकर*-गुप्त शत्रुओं से सावधान रहें, आकस्मिक दुर्घटना के प्रति सतर्क रहें,मान सम्मान का ध्यान रखना चाहिये,अपने सहयोगियों साझीदारों से बनाकर रखें।
मीन*- आर्थिक क्षेत्र मॆ अच्छी सफलताएं का योग,व्यापार मॆ विशेष सफलताएं मिलने का योग,महत्वपूर्ण निर्णय सोच समझकर लें,बाहरी खानपान मॆ सावधानी बरतें उदरविकार सम्भव,संतान को कष्ट सम्भव,मित्रों से विवादो को टाले।

इनके लिये शुभ है समय
वृषभ*-इस राशि के लिये शुभ समय, विदेश से भाग्योदय विदेश यात्रा आपको खास लाभ दे सकती है, भाग्यपक्ष बलवान।
कन्या*-व्यापार मॆ खास सफलता का योग,आर्थिक क्षेत्र मॆ महत्वपूर्ण निर्णयों के पक्ष मॆ जाने से लाभ का योग,आकस्मिक धनवृद्धि के योग,नवीन व्यापार प्रारम्भ करने के लिये शुभ समय।
तुला*-सामाजिक क्षेत्रों मॆ मान सम्मान वृद्धि के योग,कर्मक्षेत्र मॆ महत्वपूर्ण सफलता प्राप्ति के योग,शुभ समय का लाभ लें।
वृश्चिक*-आपके लिये भाग्य वर्धक समय,प्रयास सफल होंगे,विदेश आदि से मदद मिलेगी व्यापार मॆ लाभ की सम्भावनाओ मॆ वृद्धि होगी।
कुम्भ*-किसी पुरानी समस्या का निराकरण होगा, जटिल समस्याओं का समाधान होगा, रोग ऋण शत्रुओं का सफाया होगा।

पूजा पाठ,विधि विधान
सभी प्रकार के कालसर्प योग जीवन मॆ एक विशेष क्षेत्र मॆ कमी का निर्माण करते है,यह आपके पुराने कर्मों का फल होता है, इसके निराकरण  के लिये आपको नवनाग स्त्रोत,भगवान शिव के द्वादशलिंग स्त्रोत, रुद्रास्टक, शिव महिम्न, शिवपुराण, कालभैरव आदि स्त्रोत का पाठ करना चाहिये, भगवान शिव की सेवा आपको कालसर्प योग से मुक्ति दीलायगी।
*प.चंद्रशेखर नेमा"हिमांशु"*
9893280184,7000460931

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Popular News This Week