महिला अध्यापकों का मुंडन देख बेहोश हो गए 3 लोग, नाई के भी हाथ कांप रहे थे | ADHYAPAK SAMACHAR

Saturday, January 13, 2018

भोपाल। मध्य प्रदेश की शिवराज सिंह चौहान सरकार से निराश हो चुकीं महिला अध्यापकों ने शनिवार को सरेआम मुंडन कराया। उनके साथ पुरुष अध्यापक भी शामिल थे। भोपाल के जंबूरी मैदान में जब महिला अध्यापकों ने मुंडन कराना शुरू किया तो वहां मौजूद कई कई लोगों की आंखों में आंसू आ गए। इसी दौरान एक महिला और दो पुरुष अध्यापक गश खाकर गिर गए। तीनों को आनन-फानन में अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा। हालात यह थे कि मुंडन करने वाले नाई के भी हाथ कांप रहे थे। 
आजाद अध्यापक संघ की प्रांताध्यक्ष शिल्पी शिवान ने ऐलान किया था कि यदि मप्र की भाजपा सरकार उनकी मांगें नहीं मानी तो वो 13 जनवरी को भोपाल पहुंचकर मुंडन कराएंगी। इसके बाद उन्होंने प्रदेश भर में अधिकार यात्रा का आयोजन किया। सरकार में बैठे भविष्यदृष्टाओं को कतई उम्मीद नहीं थीं कि महिला अध्यापक अपने ऐलान पर अमल भी करेंगी लेकिन जैसे ही जंबूरी मैदान में मुंडन कार्यक्रम शुरू हुआ, सरकारी अफसरों के भी हाथ पांच फूल गए। 

विरोध के दौरान करीब 120 अध्यापकों ने सरकार के विरोध में मुंडन कराया। विरोध के दौरान सुरेंद्र पटेल, आशीष दुबे और सारिका अग्रवाल बेहोश हो गए। इसके बावजूद जंबूरी मैदान में जुटी अध्यापकों की भीड़ के बीच मुंडन कराने को लेकर होड़ मची रही। जिन महिला टीचर्स ने मुंडन कराया उनमें प्रांत अध्यक्ष शिल्पी सिवान, रेणु सागर, अर्चना शर्मा और सीमा छीरसागर शामिल हैं। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Popular News This Week