केरल में तूफान पर राजनीति, सारे देश पर असर, गुजरात में भी... | Okhi, Cyclone‬, ‪India‬

Monday, December 4, 2017

नई दिल्ली। तमिलनाडु, लक्षद्वीप और केरल में आए तूफान 'ओखी' पर राजनीति शुरू हो गई है। केरल सरकार ने कहा कि वेदर डिपार्टमेंट ने 30 नवंबर को अलर्ट जारी किया, जब तूफान आ चुका था। जवाब में केंद्रीय मंत्री अल्फोंस कन्नाथनम ने अपने पूर्व के बयान से पलटते हुए कहा कि 28 नवंबर को ही अलर्ट किया गया था। तूफान से रविवार तक मरने वालों संख्या 26 हो गई है। सैंकड़ों लोग लापता है। तूफान का असर पूरे भारत पर दिखाई देना शुरू हो गया है। मौसम में परिवर्तन आ रहा है। गुजरात जहां फिलहाल चुनाव चल रहे हैं, के किनारोें तक भी तूफान के पहुंचने की संभावना है। 

अब तक 26 मौतें, 92 लापता
रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने रविवार को चक्रवाती तूफान ओखी में फंसे मछुआरों के रेस्क्यू ऑपरेशन का जायजा लिया। तमिलनाडु के डिप्टी सीएम ओ पन्नीरसेल्वम, नेवी और स्टेट गवर्नमेंट के ऑफिशियल्स से हालात के बारे में जानकारी ली। इससे पहले केरल में सीएम पिनाराई विजयन ने एक हाईलेवल मीटिंग की। तूफान के चलते अब तक 26 लोगों की मौत हो चुकी है, कई लोग जख्मी हैं। करोड़ों रुपए की प्रॉपर्टी और फसलों को नुकसान हुआ है। सबसे ज्यादा नुकसान लक्षद्वीप में हुआ है। केरल में अभी भी 92 लोग लापता हैं।

गुजरात से टकरा सकता है तूफान
मौसम विभाग के मुताबिक, आखी सोमवार को साउथ गुजरात के सौराष्ट्र पहुंच सकता है। खतरे की आशंका को देखते हुए कई राज्यों को चेतावनी जारी कर दी गई है। तूफान सौराष्ट्र, कच्छ, दमन-दीव होते हुए साउथ गुजरात के कोस्टल एरिया में हल्की बारिश के साथ एंट्री करेगा। 5 दिसंबर से तेज हवाओं के साथ बारिश होगी, जिसका सीधा असर समुद्र के तट पर बसे इलाकों में होगा। हवाओं की रफ्तार करीब 55 Kmph तक हो सकती है।

दक्षिण भारत में तूफानी बारिश की चेतावनी
उधर, साउथ अंडमान में एक और कम दबाव का क्षेत्र बनने से दूसरे तूफान से अगले 2-3 दिन में तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश और पुड्‌डुचेरी में भारी बारिश होने की आशंका है। तमिलनाडु रेवन्यू कंट्रोल रूम ने बताया कि रविवार रात तक 690 लोगों को रेस्क्यू किया गया है, 96 लापता हैं और 63 लोग हॉस्पिटल में भर्ती हैं। दूसरी ओर, कोस्ट गार्ड्स ने लक्षद्वीप के 813, केरल के 531 और तमिलनाडु के 100 मछुआरों को बचाया है।

भारत के कई राज्यों में असर
दक्षिण भारत में आए तूफान 'ओखी' का असर उत्तर भारत में देखने को मिल रहा है। इसके चलते कई इलाकों में सुबह से ही आकाश में बादल छाए रहे और आम दिनों के मुकाबले आज की सुबह सर्द रही। इसके चलते तापमान नीचे लुढ़क गया। मौसम विभाग का कहना है कि इस तूफान के चलते आने वाले दो से तीन दिनों में कई हिस्सों में बारिश हो सकती है, जिसके बाद तापमान में और गिरावट आएगी और सर्दी में भी लगातार इजाफा हो सकता है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं