पढ़िए नाहरगढ़ किले पर लटकी लाश की सरकारी रिपोर्ट | NATIONAL NEWS

Saturday, December 9, 2017

जयपुर। राजस्थान के नाहरगढ़ किले में फांसी के फंदे पर लटके मिले चेतन सैनी के शव के मामले में सरकारी फॉरेंसिक रिपोर्ट सार्वजनिक की गई है। ​इस रिपोर्ट में दावा किया गया है कि चेतन सैनी की हत्या नहीं की गई थी। उसने आत्महत्या की थी। रिपोर्ट में यह दावा भी किया गया है कि आसपास जो पत्थरों पर फिल्म पद्मावती के बादे में लिखा गया था, वो भी चेतन सैनी ने ही लिखा था। सरकारी रिपोर्ट के अनुसार उसकी मौत के लिए वो खुद जिम्मेदार है। 

फॉरेंसिक रिपोर्ट में कहा गया है कि लाश के पास किले की दीवारों पर फिल्म और ऐतिहासिक पात्र पद्मावती से जोड़कर लिखी गई विवादास्पद बातें चेतन की हैंडराइटिंग में ही थीं। पत्थरों पर लिखे सांप्रदायिक उन्माद के नारों की लिखावट चेतन की डायरी में दर्ज हैंडराइटिंग से मिलती है।रिपोर्ट में कहा गया है जब किसी से कोई चीज जबरन लिखवाई जाती है, तो उसका हाथ कांपता है। ऐसे में व्यक्ति की हैंडराइटिंग से बदल जाती है। मगर, नाहरगढ़ किले में पत्थरों पर लिखी गई बातें पूरे होश में लिखी गई लगती हैं। 

चेतन के शरीर पर किसी तरह के चोट के निशान भी नहीं मिले हैं। के शरीर का कोई अंग टूटा-फूटा भी नहीं था। इससे साबित होता है कि उसके साथ कोई जोर-जबरदस्ती नहीं की गई थी। सरकारी रिपोर्ट के अनुसार ये सब बातें इस ओर इशारा करती हैं कि चेतन ने आत्महत्या की थी। चेतन के शरीर के एक तरफ मिले खरोंच के निशान के बारे में रिपोर्ट में कहा गया है कि ये खरोंचें किले की दीवार पर चढ़ने के बाद से खुद को फांसी पर लटकाने के दौरान दीवार से रगड़ने के चलते हुए लगी होंगी।

विसरा जांच में यह भी पता चला है कि चेतन के शरीर में किसी तरह का अल्कोहल या ड्रग्स या कोई अन्य नशीला पदार्थ मौजूद नहीं था। चेतन ने मौत से ठीक पहले सेल्फी भी ली थी। इसकी जांच में सामने आया है कि तस्वीर में किसी अन्य व्यक्ति की परछाईं तक नहीं है।

गौरतलब है कि देश में फिल्म पद्मावती को लेकर जबरदस्त हंगामा मचा हुआ था, तब नाहरगढ़ किले से चेतन सैनी लाश लटकती हुई मिली थी। चेतन सैनी की लाश के पत्थरों पर पद्मावती से ही जुड़े ढेरों नारे भी लिखे मिले थे, जिनमें सांप्रदायिक उन्माद की बातें थीं। पद्मावती विवाद के बीच चेतन सैनी की लाश मिलने से विवाद ने तनाव का रूप ले लिया था।

हालांकि, शुरुआती जांच में पुलिस ने भी खुदकुशी की बात ही कही थी। मगर, अब फॉरेंसिक की रिपोर्ट सामने आने के बाद साफ हो गया है कि चेतन ने आत्महत्या की थी। अब पुलिस मामले में आत्महत्या के एंगल से ही आगे की कार्रवाई करेगी। चेतन सैनी की मौत पर माली समाज और करणी सेना ने जांच की मांग की थी।

कुछ अनसुलझे सवाल
क्या चेतन सैनी एक सनकी युवक था। क्या इससे पहले भी उसकी सनक के कोई प्रसंग हैं। 
चेतन सैनी को पद्मावती विवाद में क्या रुचि थी, क्या उसने इस फिल्म को लेकर पहले भी कोई बयान दिया था। 
क्या चेतन सैनी को इतिहास की अच्छी जानकारी थी। इतनी कि वो चेतन तांत्रिक को भी जानता था। 
घटना वाले दिन और उससे एक दिन पहले चेतन की दिनचर्या क्या थी। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Popular News This Week