गुजरात में हार के डर से आपा खो बैठे हैं नरेंद्र मोदी: मनमोहन सिंह | NATIONAL NEWS

Monday, December 11, 2017

नई दिल्ली। मणिशंकर अय्यर की डिनर पार्टी को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा उठाए गए सवालों का पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने करारा जवाब दिया है। उन्होंने कहा कि गुजरात में हार के डर से मोदी आपा खो बैठे हैं और गलत बयानी कर रहे हैं। मनमोहन ने यहां तक कि कहा कि मोदी भारत के सबसे खतरनाक प्रधानमंत्री साबित हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि उस पार्टी में कई पत्रकार भी मौजूद थे। उन्हे कुछ आपत्तिजनक नहीं लगा। बता दें कि मोदी ने इस पार्टी पर सवाल उठाते हुए गुजरात चुनाव के पाकिस्तान कनेक्शन पर संदेह जताया था। 

डिनर में भारत-पाक रिलेशन की बात हुई न कि साजिश
मनमोहन ने कहा, "मैं पीएम मोदी के उस दावे को खारिज करता हूं जिसमें कहा गया कि मणिशंकर अय्यर द्वारा दी गई डिनर पार्टी में कुछ गलत हुआ। ये गुजरात चुनाव में उठाया जाने वाला मुद्दा भी नहीं है। डिनर में भारत-पाकिस्तान के रिश्तों की बात हुई। इस दौरान भारत के कई जाने-माने अफसर और जर्नलिस्ट मौजूद थे। किसी को ऐसा नहीं लगा कि वहां कोई एंटी-नेशनल एक्टीविटी हुई। मुझे उम्मीद है कि पीएम समझदारी दिखाएंगे और अपने पद की गरिमा बनाए रखेंगे। अभी वे अपनी सारी ऊर्जा गलत कामों में खर्च करते रहते हैं। मुझे ये भी उम्मीद है कि अपनी गलत सोच के लिए मोदी देश से माफी मांगेंगे ताकि उनके पद गरिमा दोबारा कायम हो सके।

खतरनाक पीएम साबित हो सकते हैं
मैं बहुत दुखी हूं कि हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गलत बातों का राजनीतिक गलियारों में प्रचार कर रहे हैं। बीजेपी को गुजरात में हार का डर है, इसकी वजह से मोदी आपा खोकर गलतबयानी कर रहे हैं। मोदी वो ख्वाहिश कर रहे हैं जो कभी पूरी नहीं हो सकतीं। वो हर संवैधानिक संस्था मसलन पूर्व प्रधानमंत्री और आर्मी चीफ की धज्जियां उड़ा रहे हैं। वे एक खतरनाक पीएम साबित हो सकते हैं। कांग्रेस को किसी से भी राष्ट्रवादिता की सीख लेने की जरूरत नहीं है। प्रधानमंत्री का आतंकवाद के खिलाफ ट्रैक रिकॉर्ड के बारे में सब जानते हैं।

बिना बुलाए पाकिस्तान क्यों गए थे
मैं मोदी को बताना चाहता हूं कि वो उस वक्त बिना बुलाए पाकिस्तान गए थे, जब भारत में उधमपुर और गुरदासपुर में आतंकी हमले हुए थे। मोदी देश को बताएं कि किस वजह से पाक की बदनाम आईएसआई को पठानकोट एयरबेस में आतंकी हमले की जांच के लिए न्योता दिया गया। बीते 50 सालों में मैं देश की क्या सेवा की, ये पूरा देश जानता है। इसको लेकर मोदी समेत कोई भी शख्स सवाल खड़े नहीं कर सकता।

कांग्रेस का पहले इनकार कर दिया था
मोदी ने जब रविवार को कांग्रेस नेताओं की पाकिस्तान के हाईकमिश्नर से मुलाकात का आरोप लगाया तो कांग्रेस ने ऐसी किसी मीटिंग से ही इनकार कर दिया। सोमवार को अंग्रेजी अखबार ‘इंडियन एक्सप्रेस’ ने जब इस मीटिंग की खबर छापी तो कांग्रेस ने माना कि इस तरह की कोई मीटिंग हुई थी। इस मीटिंग में पूर्व आर्मी चीफ जनरल दीपक कपूर भी शामिल थे। उन्होंने इस अखबार से कहा- हां, मैं इस मीटिंग में शामिल था। वहां भारत-पाकिस्तान रिश्तों पर बातचीत हुई थी।

भाजपा के नए सवाल
इसके बाद बीजेपी की तरफ से कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद सामने आए। कहा- आज पाकिस्तान कहता है कि हमें भारत के इस मामले से मतलब नहीं है। यह मीटिंग गुजरात चुनाव के वक्त क्यों हुई। मणिशंकर अय्यर के घर बैठक हुई। अब यह साफ हो गया है। मनमोहन सिंह भी शामिल हुए। पहले तो वो इनकार कर रहे थे। कांग्रेस को हमारे सवालों का जवाब देना चाहिए। कल आनंद शर्मा ने तो साफ इनकार कर दिया था कि इस तरह की कोई मीटिंग ही नहीं हुई। आज वो मीटिंग की बात मान रहे हैं। वो पीएम से माफी की मांग कर रहे थे। आज क्यों जवाब नहीं दे रहे हैं।

पाकिस्तान ने भी दिया बयान
पाकिस्तान की फॉरेन मिनिस्ट्री के स्पोक्सपर्सन फैजल ने सोमवार को ट्वीट किया, "भारत को अपने यहां होने वाले चुनाव में पाकिस्तान को घसीटना बंद करना चाहिए। भारत को चाहिए कि वह हम पर साजिश करने का आरोप लगाने के बजाय अपने दम पर चुनाव जीते। भारत के हम पर लगाए ये आरोप निराधार और गैर-जिम्मेदाराना हैं।''

मोदी ने क्या कहा?
रविवार को गुजरात के पालनपुर की रैली में तीसरी बार मणिशंकर अय्यर पर निशाना साधा। उन्होंने कहा, "गुजरात का अपमान करने वाले मणिशंकर अय्यर ने पाक के हाईकमिश्नर से सीक्रेट मुलाकात की थी। इसकी क्या वजह थी? पाकिस्तान में पूर्व में मिलिट्री-इंटेलिजेंस में ऊंचे पदों पर रहे अफसर आखिर क्यों ये कहते हैं कि हमें अहमद पटेल को सीएम बनवाने में मदद करनी चाहिए।''

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Popular News This Week