राष्ट्रपति के नजदीकी भाजपा नेता के खिलाफ धोखाधड़ी की FIR | UP NEWS

Saturday, December 9, 2017

नई दिल्ली। भारत के राष्ट्रपति श्री रामनाथ कोविंद / SHRI RAMNATH KOVIND PRESIDENT OF INDIA के साथ अपनी फोटो सोशल मीडिया पर वायरल करके खुद को उनका नजदीकी बताने वाले भाजपा नेता डॉ विपिन कठेरिया / BJP LEADER Dr. VIPIN KATHERIA के खिलाफ धोखाधड़ी /FRAUD का मामला दर्ज किया गया है। उन पर आरोप है कि उन्होंने शराब का ठेका दिलाने के नाम पर रिश्वत ली लेकिन ठेका नहीं दिलाया और वैसे भी वापस नहीं किए। भाजपा नेता का कहना है कि उन्होंने एसपी मैनपुरी राजेश एस / SP RAJESH S के खिलाफ हाईकोर्ट में एक याचिका दायर की है। इसी से नाराज होकर उन्होंने यह झूठा प्रकरण दर्ज करवाया है। 

शराब ठेका दिलाने के नाम पर धोखाधड़ी का आरोप
पूरा मामला जनपद मैनपुरी की सदर कोतवाली क्षेत्र का है। थाना कोतवाली में दिनांक 5 दिसम्बर को भारतीय जनता पार्टी कार्यकर्ता डॉ विपिन कठेरिया के खिलाफ थाना किशनी क्षेत्र के ग्राम धकरोई निवासी प्रदीप कुमार पुत्र सालिगराम ने थाना सदर कोतवाली में एक प्रार्थना पत्र दिया है जिसमें डॉ विपिन कठेरिया पर शराब ठेका दिलाने के नाम पर धोखाधड़ी कर रुपए लिए जाने का आरोप लगा है। प्रदीप कुमार ने यह भी आरोप लगाया गया है कि रुपए वापस मांगने पर डॉ विपिन कठेरिया ने जान से मारने की धमकी दी है।

420, 406 के तहत मामला दर्ज
प्रार्थना पत्र के आधार पर ही थाना कोतवाली में डॉ विपिन कठेरिया के खिलाफ आईपीसी की धारा 420, 406 के तहत मामला दर्ज किया है। जहां एक तरफ एसपी मैनपुरी राजेश एस ने मीडिया को मामले की जानकारी देते हुए बताया कि शिकायत के आधार पर मामला दर्ज किया गया है जिसकी जांच चल रही है। जांच में जो भी निकल कर आएगा उसी के आधार पर कठोर कार्रवाई की जाएगी। वहीं दूसरी ओर आरोपी डॉ विपिन कठेरिया ने भी प्रेसवार्ता कर अपने ऊपर लिखे गए मुकदमे को निराधार ओर फर्जी बताते हुए एक साजिश बताया है।

एसपी पर लगाए गंभीर आरोप
विपिन कठेरिया ने एसपी मैनपुरी पर आरोप लगाया है कि एक मामले में उन्होंने एसपी मैनपुरी राजेश एस के खिलाफ माननीय हाईकोर्ट में याचिका दायर की है। जिसकी जानकारी जब से एसपी को हुई है तब से एसपी मैनपुरी व्यक्तिगत बुराई मानने लगे हैं और इसीके चलते एक स्थानीय विधायक की सह पर इस तरह की जालसाजी कर हमारे खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया है। विपिन कठेरिया ने ये भी बताया है कि अगर उन्हें न्याय नहीं मिला तो वो अब माननीय सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाएंगे।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Popular News This Week