सैनिक ने चलती बस रोकी, महिला और पिता को उतारकर गोली मार दी | CRIME NEWS

Tuesday, December 5, 2017

ग्वालियर। भारतीय सेना के एक जवान विनोद पुरी पर आरोप है कि उसने अपनी पत्नी और ससुर की हत्या कर दी। बानमोर इंडस्ट्रियल में मुरैना से लौट रही एक बस को उसने रोका और उसमें सवार अपनी पत्नी व ससुर को नीचे उतार लिया। फिर वो उन्हे बंदूक की नौक पर जंगल में ले गया और गोली मार दी। आरोपी युवक व उसकी पत्नी 6 साल से अलग रह रहे थे। कोर्ट में तलाक और भरण पोषण का केस चल रहा था। पत्नी व उसके पिता सुनवाई के बाद वापस लौट रहे थे। मंगलवार को फैसला सुनाया जाना था। इससे पहले ही उसने डबल मर्डर कर दिया। मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों शवों को बरामद कर लिया है। आरोपी युवक फरार हो गया है। 

जानकारी के अनुसार, मुरैना से पेशी से ग्वालियर लौट रही सरला और उसके पिता प्रमोद गोस्वामी की फौजी विनोद पुरी ने गोली मारकर हत्या कर दी। घटना बानमोर इंडस्ट्रियल इलाके की है। यहां विनोद ने अपनी बाइक से बस को रोक दिया, जिसमें सवार होकर सरला और प्रमोद वापस ग्वालियर लौट रहे थे। आरोप है कि विनोद अपनी पत्नी और ससुर को सुनसान इलाके में लेकर गया और वहां गोली मारकर दोनों की हत्या कर दी। 

बताया जा रहा है कि विनोद को उम्मीद थी कि पत्नी उसके खिलाफ दर्ज तलाक और भरण पोषण का केस वापस ले लेगी और दोनों में समझौता हो जाएगा, लेकिन ऐसा हुआ नहीं। इस केस में मंगलवार को अदालत का फैसला आना था। इसके पहले ही विनोद ने इस खूनी खेल को अंजाम दे दिया।

मुरैना के सिकरौदा गांव में रहने वाले फौजी विनोद पुरी की शादी प्रमोद गोस्वामी की बेटी सरला से हुई थी। शादी के कुछ समय बाद दोनों के रिश्तों में खटास आ गई। सरला ने छह साल पहले अपने पति से अलग रहने लगी और उसके अदालत में तलाक और भरण पोषण का प्रकरण दर्ज करवाया था।

डबल मर्डर की सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने पेन कार्ड के आधार पर सरला की शिनाख्त की। पुलिस मामले की तह तक गई तो खुलासा हुआ कि उसने अपने पति के खिलाफ केस दर्ज करवाया था और उसी मामले से जुड़ी पेशी से वापस लौट रही थी। इस आधार पर पुलिस ने पति के घर पर दबिश दी, तो वह अपने घर से गायब मिला। इसके बाद पुलिस ने उसकी तलाश में एक विशेष टीम का गठन किया है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं