कंपनियों में CAR अटैच करने से पहले यह खबर जरूर पढ़ लें | BUSINESS NEWS

Thursday, December 14, 2017

इंदौर। नामी कंपनियों और होटलों में कारें अटैच करने का झांसा देकर ट्रैवल्स संचालक फरार हो गया। आरोपी महिला उद्योगपति सहित करीब 40 लोगों की 4 करोड़ रुपए कीमती कारें ले गया। आरोपी कार मालिकों से एडवांस रुपए लेकर मासिक किराए का एग्रीमेंट कर लेता था। बुधवार को पीड़ित विजयनगर थाने पहुंचे और शिकायत दर्ज करवाई।

शिकायतकर्ता रेखा (46) पति आनंद जैन निवासी गोकुलदास कंपाउंड के मुताबिक इसी वर्ष जुलाई में सोहन शर्मा ने अखबार में विज्ञापन दिया था। उसने बताया कि अभिग्न मोटर्स द्वारा देशभर में कारें किराए पर ली जाती है। कंपनी कार मालिकों से अनुबंध कर नामी कंपनी, होटल और अन्य जगह अटैच करती है। अनुबंध के मुताबिक कार मालिक को हर महीने किराया दिया जाता है।

लोग उसके झांसे में आ गए। पीड़ितों के मुताबिक आरोपी ने कार अटैच करने से पूर्व उनसे रुपए भी जमा करवा लिए थे। उसने एक महीने का किराया भी नहीं दिया और गाड़ियां लेकर फरार हो गया। 27 नवंबर को डीआईजी को शिकायत की गई थी। डीआईजी ने कॉल कर केस दर्ज करने के आदेश दिए थे, लेकिन पुलिस ने अभी तक कार्रवाई नहीं की।

देशभर में ब्रांच होना बताया
पीड़ित रेखा की दवा फैक्टरियां हैं। आरोपी ने उन्हें बताया कि कंपनी का ऑर्बिट मॉल में ऑफिस है। देशभर में शाखाएं हैं। रेखा ने लोन लेकर दो कारें खरीदी और कंपनी में अटैच कर दी। इसी तरह रवि बुधदेव, मोहन सिपाही, मयूर, मृदुल राठौर, माइकल थॉमस, गौरव सोनी सहित करीब 40 लोगों ने कारें और रुपए जमा किए। 7 जुलाई को लोग किराया लेने पहुंचे तो ऑफिस बंद मिला। पीड़ितों के मुताबिक आरोपी का मुख्यालय वडोदरा (गुजरात) में है। कंपनी के कर्ताधर्ता जिग्नेश राठौर से संपर्क किया तो धमकाने लगा।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Popular News This Week