कोलारस में अध्यापकों ने किया शक्ति प्रदर्शन, उपचुनाव में सिखायेंगे सबक | ADHYAPAK SAMACHAR

Sunday, December 10, 2017

भोपाल। कोलारस उपचुनाव में सीट जीतने के लिए जोर लगा रही भाजपा के लिए तनावभरी खबर है। अध्यापकों ने यहां एक बार फिर एकजुट होकर शक्तिप्रदर्शन किया एवं ऐलान किया कि यदि 17 दिसम्बर तक अध्यापकों का शिक्षा विभाग में संविलियन का ऐलान नहीं किया गया तो वो उपचुनाव में भाजपा को सबक सिखाएंगे। बता दें कि कोलारस सीट से कांग्रेस विधायक राम​ सिंह यादव की मृत्यु के बाद उपचुनाव हो रहे हैं। यह सीट ज्योतिरादित्य सिंधिया के प्रभाव में मानी जाती है। हाल ही में सीएम शिवराज सिंह ने यहां 2 बड़ी रैलियां की हैं। 

रविवार को जिले भर के अध्यापकों ने कोलारस में शक्ति प्रदर्शन कर सरकार को अपनी संख्या बल का एहसास कराया। जगतपुर तिराहे के निकट भाजपा चुनाव कार्यालय के ठीक सामने अध्यापकों ने सुबह ग्यारह बजे से सरकार की वादा खिलाफी और लम्बे समय से अध्यापकों के शोषण को लेकर आवाज मुखर की। दोपहर बाद अध्यापकों के विभिन्न संगठनों के प्रांतीय पदाधिकारी भी मंच पर पहॅुचे और चेतावनी दी की 17 दिसम्बर को भोपाल में मुख्यमंत्री द्वारा बुलाये गये सम्मेलन में यदि शिक्षा विभाग में संविलियन नही किया गया तो अटेर और चित्रकूट की तरह कोलारस में भी अध्यापक सत्ताशीन भाजपा को सबक सिखायेंगे। 

शाम करीब 4 बजे तीन हजार से अधिक अध्यापकों ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुये कोलारस कस्बे के प्रमुख मार्गों से रैली निकाली इस दौरान शासकीय अध्यापक संघ के प्रांताध्यक्ष आरीफ अंजुम, शासकीय संविदा शिक्षक संघ के प्रांताध्यक्ष मनोहर प्रसाद दुबे, आजाद बाहिनी की प्रांत प्रमुख सारिका अग्रवाल, अध्यापक  कांग्रेस के प्रांताध्यक्ष राकेश नायक, कार्यकारी प्रदेशाध्यक्ष शिवराज वर्मा, राकेश पाण्डेय, अरविन्द दीक्षित, संध्या अवस्थी आदि ने रैली का नेत्रत्व किया। शाम 5 बजे रैली एसडीएम कार्यालय पहुॅची जहां अध्यापकों ने मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन कोलारस तहसीलदार को ज्ञापन सौंपा।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Popular News This Week