3 साल तक विदेशी गर्ल के पीछे पड़ा रहा गांव का छोरा, अंतत: मान गई | LOVE STORY

Monday, December 11, 2017

भोपाल। कुल जमा तीन महीने पुरानी मुलाकात थी। विदिशा के अमित, फ्रैंकफर्ट (जर्मनी) की उस गोरी लड़की सिलवाना को अपना दिल दे बैठे और प्रपोज भी कर दिया। 2013 में अमित के इस प्रपोजल को सिलवाना ने ठुकरा दिया। सागर इंस्टीट्यूट से इंजीनियरिंग करने वाले अमित कुशवाह ने फिर भी हार नहीं मानी। वह सिलवाना से संपर्क में रहा, फेसबुक पर चैटिंग करता और उसे मनाता रहता। आखिर तीन साल बाद सिलवाना ने अपनी रजामंदी दे दी। जब सिलवाना भारत अमित से मिलने आई तो अमित ने उसे राजा भोज एयरपोर्ट, भोपाल में घुटनाें के बल बैठकर, हाथों में फूल लेकर प्रपोज किया और इस बार सिलवाना मान गईं।

ऐसे हुई थी मुलाकात
विदिशा में ग्यारसपुर के रहने वाले अमित कुशवाह की मुलाकात भोपाल के अनाथ आश्रम में जर्मनी की लड़की सिलवाना क्लाइन से हुई। दोनों को प्यार हो गया। यहीं से अमित की जिंदगी में बदलाव आना शुरू हुआ, वह सिलवाना से शादी करने फ्रैंकफर्ट पहुंच गया। वहां पर चर्च मैरिज और कोर्ट मैरिज करने के बाद अब दोनों हिंदू रीति-रिवाज से सात फेरे लेने की तैयारी कर रहे हैं। जर्मनी में दोनों ने फोटोशूट कराया है।

मान-मनौव्वल के बाद हुआ प्यार
महज 2 साल की उम्र में पिता जमुना प्रसाद कुशवाह और माता सुतादेवी कुशवाह का साया अमित के सिर से उठ गया। अमित की परवरिश बेसहारा बच्चों की संस्था नित्या सेवा आश्रम भोपाल में हुई। यह संस्था जर्मनी में फ्रैंकफर्ट सिटी के रहने वाले थामस मार्टिन क्लाइन और उनकी पत्नी गाबी क्लाइन की फंडिंग से चलती है। इस कारण क्लाइन दंपति की बेटी सिलवाना का भी इस आश्रम में हमेशा आना-जाना बना रहता है। 2013 में अप्रैल में पहली मुलाकात हुई थी।

पहली बार सिलवाना ने ठुकरा दिया था प्रपोजल
सिलवाना सबसे पहले साल 2013 में सोशल वर्क के लिए भोपाल आई थी। उसी समय अमित कुशवाह का दिल सिलवाना से लग गया था। 2013 में ही अमित अौर सिलवाना दोनों 12वीं के छात्र थे, उसी समय अमित ने सिलवाना को प्रपोज कर दिया। लेकिन तब तक सिलवाना इसके लिए तैयार नहीं हुई थीं। उन्होंने मना कर दिया। लेकिन मुलाकात और फेसबुक पर बात होती रही। 2015 में सिलवाना ने शादी के लिए रजामंदी दे दी।

इस साल फ्रैंकफर्ट रचाई शादी
अगस्त 2017 में दोनों ने शादी करने का फैसला किया। अमित कुशवाह पहली बार अगस्त में जर्मनी के फ्रैंकफर्ट सिटी पहुंचे। इसके बाद यहां 8 अगस्त को पहले कोर्ट मैरिज की और फिर 12 अगस्त को चर्च मैरिज की। अमित अब भारतीय परंपरा के अनुसार अरेंज मैरिज करने की तैयारी कर रहे हैं। अरेंज मैरिज का स्थान अभी तय नहीं हुआ है।

करवाचौथ का व्रत रखती है सिलवाना
अमित ने बताया कि सिलवाना को भारतीय पारंपरिक परिधान व व्यंजन काफी पसंद हैं। वह साड़ी पहनती हैं और मेंहदीं भी लगाती हैं। इसके साथ ही वह करवा चौथ का व्रत भी रखती हैं। हम दोनों एक दूसरे की भावनाओं का पूरा ख्याल रखते हैं। अमित ने सिलवाना से उसी की भाषा में बात करने के लिए जर्मन सीखी थी, जबकि सिलवाना ने जर्मन सीखी, जिससे उसे अमित से अपनी भावनाएं जाहिर करने में कोई परेशानी न आए।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Popular News This Week