ईमानदार अफसर के यहां 22 खाते, 5 मकान, 15 करोड़ का प्लाट, 16 एफडी और... | MP NEWS

Monday, December 25, 2017

इंदौर। खुद को ईमानदार अफसर बताने वाले रिटायर्ड अपर कलेक्टर आनंद जैन (RETIRED UPPER COLLECTOR ANAND JAIN) के यहां लोकायुक्त (LOKAYUKTA POLICE) छापे में काफी कुछ हाथ लगा है। लोकायुक्त पुलिस का मानना है कि इसमें से काफी सारी काली कमाई है। लोकायुक्त पुलिस को जैन के घर से 5 मकान, 22 BANK ACCOUNT, 16 FD, खजराना में 15 करोड़ की डेढ़ एकड़ जमीन, 3 बैंक लॉकर के कागज मिले हैं। अब लोकायुक्त पुलिस यह पता लगा रही है कि इसमें (PROPERTY) से कालाधन कितना है और आनंद जैन की कमाई (REAL INCOME) कितनी। 

लोकायुक्त पुलिस ने रविवार सुबह साढ़े छह बजे रिटायर्ड अपर कलेक्टर आनंद जैन के दो घरों पर एक साथ छापा मारा। जिस समय टीम जैन के घर पहुंची, वे सो रहे थे। इतनी संपत्ति उजागर होने के बाद जैन ने कहा कि मैं ईमानदार अफसर रहा हूं। जिसने मेरी शिकायत की उसे भगवान सजा देंगे। छापे की कार्रवाई इंदौर की रेडियो कॉलोनी में बने बंगले और टेलीफोन नगर स्थित बंगले पर हुई। 

IAS अवॉर्ड भी नहीं मिला था
1980 में राप्रसे के अफसर के तौर पर जैन की नौकरी शुरू हुई। रिटायरमेंट से पहले के कुछ सालों में उन्होंने आईएएस अवॉर्ड के लिए खूब मशक्कत की, लेकिन सफलता नहीं मिली। बताया जाता है कि उनकी सीआर खराब थी। 

15 करोड़ की जमीन, 4 लाख नकद 
लोकायुक्त पुलिस को बायपास रोड पर बेस्ट प्राइस के पास जैन की डेढ़ एकड़ जमीन के दस्तावेज मिले हैं। गाइड लाइन के हिसाब से ही इसकी कीमत 15 करोड़ है। एक और प्लाट, साढ़े चार लाख रुपए नकद और 16 एफडी मिलीं। सभी 1 से 5 लाख तक की। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Popular News This Week