राशिफल 2018: मिथुन (का,की,कु,के,को,घ,ड,छ,हा) | Horoscope 2018 Gemini

Thursday, December 14, 2017

इस बार इस राशि के सितारे अत्यंत मजबूत है, राहु केतु इस समय धन और अष्टम भाव मे पहुंच चुके हैं। राहु धन स्थान मे आकस्मिक धन की वृद्धि करेगा लेकिन अष्टम का केतु संतान, उदर विकार, गुप्त शत्रु जैसे कष्टों मे वृद्धि कर सकता है। गुरु ग्रह पंचम भाव मे शुभ स्थिति मे है। लाभ, व्यक्तित्व, तथा भाग्य को उत्तम सहयोग प्रदान करेगा। शनि ग्रह का केन्द्र मे आना आपके लिये चार चांद लगाने जैसा है। भाग्य आपको विशेष सहयोग करेगा। इस वर्ष आपका भाग्य आपको कर्मक्षेत्र, नौकरी, व्यापार मे उत्तम सहयोग करेगा।

महिलाओं के लिये
यह वर्ष इस राशि की महिलाओ के लिये सफलता के नये रास्ते दिखायेगा। नवीन कार्यों मे सफलता का योग। नौकरी के प्रयास सफल होंगे। विवाह योग्य महिलाओं के लिये शुभ समय। विवाह आदि मांगलिक कार्यों मे भाग्य सहयोग करेगा। इस राशि की महिलाओं के लिये यह वर्ष मान सम्मान व कई सम्भावनाए लेकर आयेगा।

व्यापारी वर्ग
इस राशि के व्यापारियों के लिये समय शुभ है। आकस्मिक धन लाभ का योग। आपके कार्यों मे आपको सरकार का सहयोग मिलेगा। नये कामों की शुरुआत भी हो सकती है। कामकाज मे वृद्धि के योग। वरिष्ठ लोगो की कृपा प्राप्त होगी। नई योजनाओं का विस्तार होने का योग है। समय शुभ है, इसका लाभ उठाए।

कर्मचारी वर्ग
इस वर्ग के लिये यह वर्ष अत्यंत अनुकुल है। भाग्य से पदोन्नति के योग। स्वयं के कार्यक्षेत्र मे उन्नति और प्रतिष्ठा वृद्धि के योग। महत्वपूर्ण कार्यों मे सफलता प्राप्त होगी। साझीदारी से जुड़े कार्यों मे विशेष सफलता प्राप्त होगी।

विद्यार्थी वर्ग
इस वर्ष आपको शिक्षा के क्षेत्र मे विशेष उन्नति के योग हैं। उच्च शिक्षा ले लिये किये गये प्रयास सफल होंगे। शिक्षा के क्षेत्र मे मान सम्मान प्राप्ति के योग। यह वर्ष आपके लिये विशेष लाभकारक होगा,समय का लाभ उठाये।

स्वास्थ्य
अष्टम भाव का केतु उदर विकार, गुप्त रोग तथा अज्ञात बीमारियों से आपको पीडित कर सकता है। किसी भी प्रकार की स्वास्थ्य सम्बंधी परेशानी मे शांति बनाये रखने तथा आहार विहार मे सुधार रखने से ही लाभ होगा। ज्यादा लम्बे चिकित्सा सम्बंधी जांच आदि से बचें। यह वर्ष आपके स्वास्थ्य को अत्यंत अनुकुल रखेगा, पुराने रोगों मे सुधार भी होगा।

वास्तु और दिशा
इस वर्ष आपके सभी ग्रह अत्यंत अनुकुल स्थिति मे हैं। सभी दिशाओं मे जाकर कार्य कर सकते है। आपके लिये समय विशेष लाभदायक है। दक्षिण पश्चिम दिशा मे विशेष लाभ का योग।

पूजा पाठ, इष्ट आराधना
देवी, काल भैरव तथा भगवान दत्तात्रेय की पूजा आपको विशेष लाभ देंगी। इसके अलावा आप गणेशजी की भी विशेष पूजा करें।
*प.चंद्रशेखर नेमा"हिमांशु"*
9893280184,7000460931

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Popular News This Week