PTM टालने के लिए 11वीं के छात्र ने की थी प्रद्युम्न की हत्या: CBI का खुलासा

Wednesday, November 8, 2017

नई दिल्ली। गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशनल स्कूल में 8 सितंबर को हुए प्रद्युम्न हत्याकांड का सीबीआई ने खुलासा कर दिया है। सीबीआई की जांच में हरियाणा पुलिस की कार्रवाई फर्जी पाई गई। प्रद्युम्न की हत्या कंडक्टर ने नहीं बल्कि 11वीं के एक छात्र ने की थी। वो उस दिन होने वाली पेरेंट्स टीचर मीटिंग से बचना चाहता था। उसे मालूम था कि यदि ऐसा कुछ हो गया तो मीटिंग नहीं होगी। यह वही हत्याकांड है जिसने सारे देश को झकझोरकर रख दिया था। 

सीबीआई से जुड़े सूत्रों के मुताबिक छात्र ने परीक्षा और पीटीएम मीटिंग टालने के लिए प्रद्युम्न की हत्या की थी। बताया जाता है कि आरोपी छात्र अपने दोस्तों के बीच भी कई दिनों से कह रहा था कि "मैं कुछ ऐसा करूंगा कि पीटीएम मीटिंग ही नहीं होगी"। उसकी बातों को साथी छात्र हल्के में लेते रहे। क्यूंकि किसी को अंदाजा नहीं हुआ कि वह हत्या जैसे अपराध को अंजाम देगा।

दूसरी बात यह भी सामने आ रही है कि आरोपी छात्र बाथरूम में कुछ आपत्तिजनक हरकत कर रहा था, जिसे प्रद्दुम्न ने देख लिया और बात सार्वजनिक होने के डर से उसने प्रद्युम्न की हत्या कर दी। आरोपी छात्र पर धारा 302 के तहत हत्या का मामला दर्ज किया गया है। इससे पहले सीबीआई छात्र से कई बार पूछताछ कर चुकी है। 

सीबीआई से जुड़े सूत्रों का कहना है वरिष्ठ अधिकारियों से अनुमति मिलने के बाद आरोपी छात्र को गिरफ्तार करने का फैसला लिया गया। सीबीआई सूत्रों के मुताबिक सीसीटीवी फुटेज ने जांच में बड़ी सहायता की। एक फुटेज में छात्र को प्रद्युम्न के साथ वॉशरूम की तरफ जाते देखा गया था। सूत्रों का कहना है कि छात्र ने अपना गुनाह स्वीकार कर लिया है। आरोपी छात्र ने प्रद्युम्न को मारने का फैसला सुबह ही किया था। छात्र उस दिन होने वाली परीक्षा और पीटीएम मीटिंग को हर हाल में टलवाना चाहता था। इसलिए उसने प्रद्युम्न की हत्या कर दी। 

पहले बस कंडक्टर को बनाया गया आरोपी
शुरुआती जांच के दौरान गुरुग्राम पुलिस ने स्कूल के बस कंडक्टर को मुख्य आरोपी बनाया था। बाद में हरियाणा सरकार ने केस की जांच का जिम्मा सीबीआई को दे दिया। एजेंसी के सामने अशोक ने बच्चे की हत्या के आरोप से इनकार कर दिया था।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं


Popular News This Week