अब चुनाव में मजा नहीं आ रहा: PM नरेंद्र मोदी

Sunday, November 5, 2017

नई दिल्ली। हिमाचल प्रदेश में चल रहे विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ऊना जिले में हुई आमसभा में कहा कि अब चुनाव में मजा नहीं आ रहा, क्योंकि कांग्रेस मतदान से पहले ही मैदान छोड़कर भाग गई है। रविवार को मोदी ने ऊना में परिवर्तन रैली को संबोधित कर रहे थे। वोटिंग को अब सिर्फ 4 दिन शेष रह गए हैं। मोदी ने यहां जीएसटी पर भी विशेष फोकस किया। इसके अलावा शुरू से अब तक की कांग्रेस सरकारों की भी बात की। केंद्र से लेकर हिमाचल तक के मुद्दों पर उन्होंने बयान जारी किए। 

क्या खास कहां ऊना मे मोदी ने 
57000 करोड़ काला धन जिनकी जेब में जाता था वो मोदी को दोषी ठहराते हैं। आम जनता को नोटबंदी से कोई परेशानी नहीं हुई है।
नोटबंदी, जीएसटी आदि की जरूरत पहले भी देश को थी, लेकिन सत्ता की चाह रखने वाली सरकारें सत्ता खोने के डर से ऐसे कदम नहीं उठाती थी। देश की भलाई के लिए हर कदम केंद्र की भाजपा सरकार द्वारा उठाया जाएगा।
देश की जनता ज्यादा नहीं मांगती है, उन्हें तो केवल अच्छे अवसर चाहिए जो कि मोदी सरकार ने लोगों को मुहैया करवाए हैं।
जो विकास कार्य केंद्र की भाजपा सरकार ने किए हैं उसके लिए बजट पहले से उपलब्ध था, लेकिन पहले की कांग्रेस सरकार ने विकास में रुचि नहीं दिखाई।

मोदी ने यह भी कहा 
ऊना रेलवे लाइन पर अन्य सरकारों ने राजनीति की है, लेकिन भाजपा सरकार जल्द रेल लाइन को बनाएगी।
पूर्व में हिमाचल में धूमल सरकार व केंद्र में अटल सरकार के दौरान बहुत विकास प्रदेश में किया गया है। यदि फिर से भाजपा को राज्य में मौका दिया जाता है तो विकास की गति को तेज किया जाएगा।
ऊना के लिए ट्रिपल आई.टी का उद्घाटन हाल ही में किया गया है ताकि शिक्षा के बेहतर अवसर प्रदान किए जा सकें।
प्रदेश में बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं प्रदान की गई हैं।  
एक दिन में बनने वाले राजमार्ग, रेल पटरी, दोहरी पटरी की संख्या दोगुनी हुई है जो कि भाजपा सरकार की सफलता है और पूर्व की कांग्रेस सरकार की नाकामी को दर्शाती है।
3 साल में देश ने देखा कि सरकार की सोच बदली है और विकास हुआ है।
देश का भविष्य चहुंमुखी, तेज और स्थाई विकास पर निर्भर करता है। गरीब को लाभ मिले इसका भाजपा सरकार पूरा ध्यान रख रही है। भाजपा की कोशिश यही है कि विकास पर ही चर्चा हो।

जीएसटी पर भी किया फोकस 
जीएसटी पर बोलेते हुए उन्होंने कहा कि देश के किसी भी व्यापारी संगठन ने जीएसटी का विरोध नहीं किया है। देश ने इसका स्वागत किया है। पहले टैक्स पर टैक्स लगे थे, जिससे की छोटे व्यापारी परेशान होते थे। चुंगी-नाकों पर घंटों तक फंसे रहने से ट्रक वाले परेशान होते थे और काम में भी फर्क पड़ता था। देश का नागरिक प्रबुद्ध है। जीएसटी में परेशानी होने पर चर्चा का वायदा किया था और जीएसटी काउंसिल की बैठक में समस्याओं का समाधान किया भी गया है। राज्यों के अफसरों की कमेटियां बनाकर आम जनमानस को समस्या से निजात दिलवाने के आदेश दिए गए हैं। 9-10 को जीएसटी काउंसिल की बैठक होगी। इसके बाद भी समस्या रहती है तो फिर से बैठक की जाएगी।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Trending

Popular News This Week