कमलनाथ को मिलेगा महत्वपूर्ण पद: तन्खा का इशारा | MP NEWS

Monday, November 27, 2017

जबलपुर। मप्र में कांग्रेस के सीएम कैंडिडेट को लेकर कयासों का दौर जारी है। शुरूआत में कमलनाथ ने इसके लिए सीधी दावेदारी की थी लेकिन बाद में वो पार्टीलाइन पर आ गए और संगठन के लिए काम करने का ऐलान किया। अब सांसद विवेक तन्खा ने पत्रकारों के बातचीत के दौरान इशारा किया है कि परिस्थितियां बदलेंगी, कमलनाथ महत्वपूर्ण पद पर होंगे। अब इस सवाल का जवाब तलाशा जा रहा है कि यह महत्वपूर्ण पद सीएम कैंडिडेट होगा या कुछ और। तन्खा, कमलनाथ की मौजूदगी में यह इशारा कर रहे थे। 

जबकि कमलनाथ ने पार्टी लाइन पर चलते हुए बयान दिया कि कांग्रेस अपना सीएम कैंडिडेट सही समय पर घोषित कर देगी, मुझे किसी के नाम पर आपत्ति नहीं। मेरा लक्ष्य एकजुट होकर काम करना है। नेताद्वय का रविवार की शाम एक निजी कार्यक्रम में अल्प प्रवास हुआ। इस दौरान उन्होंने पश्चिम क्षेत्र के विधायक तरुण भनोत के निवास पर पत्रकारों से चर्चा की।

उद्योग में प्रदेश पिछड़ा
कमलनाथ ने कहा कि मप्र में मुख्यमंत्री ने पिछले 12 साल के अपने कार्यकाल में इंदौर में कई इन्वेस्टर्स मीट की और निवेश की घोषणाएं की, लेकिन प्रदेश में निवेश नहीं आया। इसका कारण यह है कि लोगों को प्रदेश के नेतृत्व पर विश्वास नहीं है। पिछले 12 साल में जितने उद्योग शुरू नहीं हुए उससे अधिक बंद हो गए।

युवाओं का भविष्य असुरक्षित
कमलनाथ ने कहा कि मप्र में युवाओं का भविष्य असुरक्षित है। यहां के युवा अन्य राज्यों में सर्विस कर रहे हैं। यहां निवेश नहीं होने से युवाओं को रोजगार नहीं मिल रहा है।

भावांतर में किसानों को फायदा नहीं
कृषि क्षेत्र में भावांतर योजना से गिने चुने व्यापारियों को लाभ मिल रहा किसाानों को नहीं। इससे किसान परेशान हैं।

नोटबंदी से अर्थव्यवस्था को झटका
नोटबंदी पर कमलनाथ ने कहा कि इससे लोगों को परेशानी हुई। देश की अर्थ व्यवस्था की नींव में झटका लगा है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कहते हैं कि देश में भ्रष्टाचार समाप्त हुआ है हकीकत यह है कि कहां भ्रष्टाचार समाप्त हुआ है। आज गांव-गांव में हर लेवल पर भ्रष्टाचार है। शिवराज सिंह चौहान के 12 साल अगले तीन दिन में पूरे हो जाएंगे। वे गुमराह करने 2022 की योजना बना रहे, यह बरगलाने की राजनीति है।

जांच एजेंसी को केवल मेडिकल दिखता है
राज्य सभा सांसद विवेक तन्खा ने कहा कि व्यापमं के बारे एजेंसी के दृष्टिकोण पर हमें दुख है। जिस एजेंसी को सुप्रीम कोर्ट ने ट्रस्ट करके इंवेस्टिगेशन दिया था वह पूरी ताकत मेडिकल कॉलेजों पर दिखाती है। वह भी इस तरह जैसे किसी दूसरे संस्थानों में कोई गलती नहीं हुई। पुलिस, ट्रान्सपोर्ट, पटवारी के रिक्रूटमेंट में भी गड़बड़ी हुई। प्रदेश सरकार विफल हो चुकी है।

राम दरबार भेंट करके 2018 का शंखनाद
पश्चिम क्षेत्र के विधायक तरुण भनोत ने वरिष्ठ कांग्रेस नेता कमलनाथ को चांदी का रामदरबार और आरती भेंट की। तरुण भनोत का कहना है भगवान राम उनके अराध्य हैं। यह कांग्रेस के लिए शुभ संकेत है। भगवान राम दरबार की तरह हमारी कांग्रेस सेना भी एकजुट होकर चुनाव लड़ेगी और जीतेगी।

ये थे उपस्थित
इस दौरान चंद्रकुमार भनोत, लखन घनघोरिया, नीलेश अवस्थी, दिनेश यादव, जगतबहादुर सिंह अन्नू, राधेश्याम चौबे, आलोक मिश्रा, आलोक चंसोरिया, अभिषेक चौकसे, संजय यादव, नरेश सराफ, कल्याणी पांडे, कौशल्या गोंटिया, गीता शरद तिवारी, जमुना मरावी समेत सभी कांग्रेस नेता उपस्थित थे।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं