प्राइवेट स्कूलों के खिलाफ अशासकीय संकल्प विधानसभा में लाया जाएगा: नेता प्रतिपक्ष | MP NEWS

Tuesday, November 28, 2017

भोपाल। निजी स्कूलों के खिलाफ विगत आठ माह से अभिभावक एवं छात्र हित सरंक्षण समिति (सागर विकास नागरिक मंडल) संघर्षरत है और संघर्ष के तहत् ही कानून बनाओ शिक्षा बचाओ यात्रा सागर से बिभिन जिलों गांवों कस्बो से होती हुई भोपाल पहुंची। भोपाल पहुँच कर समिति के डॉ धरणेन्द्र जैन पंकज सोनी संतोष दुबे राहुल समेले महेश तिवारी आकाश दुर्गेश ब्रह्म्पुरिया अनूप गोयल आदि ने आज नेता प्रतिपक्ष, दीपक जोशी शिक्षा मंत्री, बाल आयोग के अध्यक्ष से मुलाकात कर निजी स्कूलों की मनमानी तथा शासकीय स्कूलों की बदहाली की बात बतायी।

मुलाकात के दौरान बताया गया कि समिति ने 230 विधायकों को पत्र लिखकर स्कूल शिक्षा की बदहाली की बात  बतायी है तथा मांग की है कि आप सभी विधायकगणो को करोडो अभिभावकों ने चुनकर विधान सभा भेजा है इसलिए आपका कर्तव्य है कि निजी स्कूलों की मनमानी पर नियंत्रण हेतु शीघ्र प्रभावी कानून बनाने हेतु सरकार को बाध्य करें क्योंकि मध्यप्रदेश में निजी स्कूलों पर नियंत्रण हेतु वर्तमान में कोई प्रभावी कानून नहीं है और जंगल राज जैसी स्थिति है।समिति ने यह भी मांग की है कि मध्यप्रदेश सरकार ने केबिनेट में जो विधेयक का ड्राफ्ट रखा है उसे कानून बनने में समय लग सकता है इस स्थिति में सरकार को अध्यादेश लाने हेतु बाध्य करें।

उक्त मुलाकात के बाद - डॉ धरणेन्द्र जैन ने बताया कि नेता प्रतिपक्ष अजय सिंह जी को निजी स्कूलों की मनमानी और शासकीय स्कूलों की दुर्दशा में बारे में बताया गया और विगत 8 माह से चल रहे आंदोलन की जानकारी दी गयी तो नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि इसी सत्र में निजी स्कूलों की मनमानी पर नियंत्रण हेतु अशासकीय संकल्प और ध्यानाकर्षण प्रस्ताव सदन में लाया जायेगा तथा निजी स्कूलों की मनमानी पर लगाम हेतु समुचित प्रयास किये जायेंगे। 

पंकज सोनी ने बताया कि शिक्षा मंत्री श्री दीपक जोशी ने निजी स्कूलों की मनमानी को गंभीर बताया एवं कहा कि इसी सत्र में विधेयक कानून बन जाएगा। साथ ही एक स्कूल की मनमानी को लेकर जिला शिक्षा अधिकारी सागर से सात दिवस में शिकायत की जाँच कर प्रतिवेदन बुलाने हेतु तुरंत पत्र जिला शिक्षा अधिकारी को लिखा है। श्री जोशी ने वात्सल्य के मामले को गंभीरता से लिया है।

संतोष दुबे ने बताया कि बाल आयोग के अध्यक्ष से मुलाकात हुई और उन्होंने कहा है कि बच्चों के शोषण एवं उत्पीड़न संबंधी जो ममले संज्ञान में लाये गए है उस पर शीघ्र कार्यवाही करेंगे। साथ ही सागर जिला शिक्षा अधिकारी को फोन पर निर्देश जारी किये। राहुल समेले ने बताया कि यात्रा पूरी तरह सफल रही है और हमारी कानून बनाने की मांग पर सरकार ने मुहर लगायी है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


Popular News This Week

खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं