मोदीजी, जनता चौकीदार को भागीदार मान लेगी: राहुल गांधी @ GUJARAT ELECTION NEWS

Monday, November 13, 2017

पालनपुर/गुजरात। गुजरात चुनाव के दौरान भ्रष्टाचार को लेकर राहुल गांधी ने पीएम नरेंद्र मोदी को टारगेट किया है। गांधी ने कहा कि गुजरात के सीएम विजय रूपाणी तक संदेह के दायरे में हैं। सेबी ने उन्हे बेईमान कहा है फिर भी मोदीजी, चुप हैं। मोदी का नारा था कि न खाऊंगा और न खाने दूंगा, लेकिन अब वो चुप हैं। मोदी अगर नहीं बोलेंगे तो जनता मानेगी कि वह चौकीदार नहीं बल्कि भागीदार का काम कर रहे हैं।

कांग्रेस नवसर्जन यात्रा के चौथे चरण के प्रचार अभियान के लिए रविवार को उत्तर गुजरात पहुंचे राहुल गांधी ने कहा कि भाजपा बदले की राजनीति करती है है, लेकिन कांग्रेस बदलाव की राजनीति करेगी। गांधी बोले कि चुनाव के दौरान वह पीएम नरेंद्र मोदी की आलोचना तो करेंगे, लेकिन उनका अनादर नहीं। सवाल किया कि सेबी ने गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी को बेईमान तक कहा है, लेकिन पीएम नरेंद्र मोदी इस मामले पर क्यों नहीं बोल रहे? उनका कहना था कि मोदी का नारा था कि न खाऊंगा और न खाने दूंगा, लेकिन अब लगता है कि यह, न बोलता हूं, न बोलने दूंगा हो गया है। मोदी अगर नहीं बोलेंगे तो जनता मानेगी कि वह चौकीदार नहीं बल्कि भागीदार का काम कर रहे हैं।

गरीबों का 30 हजार करोड़ टाटा को दे दिया
कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा कि पूरे देश में गुजरात में सबसे ज्यादा भ्रष्ट सरकार है। सूरत के कारोबारियों ने उन्हें बताया है कि उनके कारखाने में पुलिसकर्मी हर दो मिनट में रिश्वत लेने के लिए आता है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने 35 हजार करोड़ से मनरेगा में करोड़ों लोगों को रोजगार दिया, जबकि गुजरात में अकेले टाटा को नैनो प्रोजेक्ट के लिए इतने रुपये दे दिए गए। इस पैसे से राज्य के किसानों का कर्ज माफ हो सकता था। इसे स्कूल कॉलेज में लगाते तो बच्चों को लाखों रुपये की फीस नहीं भरनी पड़ती। सूरत व अहमदाबाद के लघु व मध्यम उद्यमियों को यह रकम देते तो वे प्रदेश की कायापलट कर सकते थे। गुजरात के लोगों के साथ धोखा हुआ है।

भाजपा नेता हंसना भूल गए हैं 
राहुल ने भाजपा पर मीडिया पर अंकुश लगाने का भी आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि गुजरात में भाजपा नेता हंसना भूल गए हैं। जीएसटी पर राहुल ने कहा कि जब तक इसमें 18 फीसद की एक दर लागू नहीं होगी तब तक कांग्रेस चैन से नहीं बैठेगी। उनका कहना था कि पेट्रोल व रसोई गैस को भी इसके दायरे में लाया जाना चाहिए। राहुल ने इस दौरान कांग्रेस की सोशल मीडिया सेल के लोगों से भी बात की।

मीडिया दवाब में है, सोशल मीडिया का उपयोग करो
राहुल ने मजाकिया लहजे में कहा कि मेरे ट्वीट मेरा पालतू कुत्ता करता है। उन्होंने कहा कि मीडिया इस समय सरकार के निशाने पर है। जो खिलाफ जाता है उस पर शिकंजा कसना शुरू हो जाता है, लिहाजा सोशल मीडिया का महत्व बढ़ गया है। उन्होंने टीम को हिदायत दी कि किसी भी ट्वीट को जारी करने से पहले दो से तीन लोगों की टीम उसकी फिर से पड़ताल करे।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Trending

Popular News This Week