दोस्त ने बताया नाले के नीेच नग्न लड़की पड़ी है, तो मैं भी पहुंच गया रेप करने: चौथा आरोपी बोला

Tuesday, November 7, 2017

भोपाल। भोपाल गैंगरेप मामले में नया खुलासा हुआ है। यदि गैंगरेप के बाद बदमाश के गला दबाने से लड़की बेहोश ना हो गई होती तो उसके गैंगरेप का सिलसिला रात भर चलता रहता। मामले में फरार चौथे आरोपी की गिरफ्तारी के बाद हुए बयानों में पता चला है कि गैंगरेप करने के बाद बदमाशों ने खुद जाकर दूसरे लोगों को इसकी सूचना दी। चौथे आरोपी राजेश उर्फ रमेश ने बताया कि 31 अक्टूबर की रात हबीबगंज स्टेशन के पास नाले के नीचे गोलू और अमर उर्फ गुल्टू ने उन्हें छात्रा के नग्न पड़े होने की जानकारी दी थी इसलिए वो अपने साथी राजेश के साथ वहां पहुंच गया। दुष्कर्म के बाद उन्होंने उसका गला दबाया, उन्हें लगा कि युवती मर गई है। वे वहां से भाग गए।

आरोपियों से पूछताछ में पुलिस को बताया था कि 40 वर्षीय राजेश उर्फ रमेश उर्फ राजू नरसिंहपुर का रहने वाला है। एक टीम ने वहां जाकर पूछताछ की तो सामने आया कि 5 साल पहले उसकी पत्नी की मौत हो चुकी है। उसके बच्चे नहीं है। इसके बाद से वह खानाबदोश की तरह रहने लगा था। वह कभी भोपाल तो कभी नरसिंहपुर में रहता था। उसके बागसेवनिया, मिसरोद और कोलार के आसपास होने का पता चलने के बाद पुलिस ने मजदूरों के पीठे पर जाकर मजदूरों को उसके फोटो दिखाए। 

बेखबर बदमाश मजदूरी करता मिला
यहां से ही पुलिस को सोमवार दोपहर उसके कोलार में मजदूरी करने की जानकारी मिली। पुलिस ने पहले तो इलाके में अन्य मजदूरों को विश्वास में लिया, फिर बताए हुलिए के आधार पर राजेश उर्फ महेश उर्फ राजू के होने की पुष्टि अन्य साथी मजदूरी से कराई। पुष्टि होने पर दोपहर बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। अजीब बात देखिए कि यहां भोपाल गैंगरेप के बाद सारा शहर गुस्से से उबल रहा है और वहां बदमाश भोपाल शहर में रहकर आराम से मजदूरी कर रहा था। शायद उसे भरोसा था कि पुलिस कभी उसे पकड़ने के लिए नहीं आएगी। 

शिक्षामंत्री ने सुबह दिया बयान शाम को पलट गए
सरकार कोचिंग और निजी हॉस्टल को नियंत्रण में लाने के लिए नए नियम बनाने जा रही है। स्कूल शिक्षा और उच्च शिक्षा राज्य मंत्री दीपक जोशी ने सोमवार सुबह कहा कि कोचिंग इंस्टीट्यूट रात 8 बजे बंद कर देना चाहिए। हालांकि वे शाम को बयान से पलट गए। उन्होंने कहा कि मेरे कहने का मतलब था कि रात 8 बजे के बाद कोचिंग इंस्टीट्यूट यदि क्लास लगाते हैं तो छात्राओं को घर छोड़ने की जिम्मेदारी भी उनकी होगी। उन्होंने कहा कि कोचिंग इंस्टीट्यूट से एप तैयार करने को कहा जाएगा, जिसमें छात्राओं की लोकेशन ट्रेस करने की व्यवस्था होगी।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Trending

Popular News This Week