BHIND में घूसखोर पुलिस अधिकारी गिरफ्त मेंं आते ही रोने लगा, फिर गुस्से में...

Tuesday, November 7, 2017

भिंड। प्रदेश भर में पुलिस के खिलाफ आक्रोश पनप रहा है। बावजूद इसके ​पुलिस का रवैया जस का तस बना हुआ है। यहां जमानती मामले में कागजी कार्रवाई करने के बदले सब इंस्पेक्टर सोनीलाल माथुर ने आरोपी को रिश्वत देने के लिए मजबूर किया। मामला लोकायुक्त पहुंचा। छापामार कार्रवाई हुर्ठ और एसआई को थाने के भीतर ही धर लिया गया। जैसे ही वो गिरफ्त में आया, पहले तो रोने लगा, फिर गुस्से में आकर अपनी जेब में रखा एक 500 का नोट फाड़ दिया। शायद यह नोट भी किसी रिश्वत का ही रहा होगा। लोकायुक्त टीम ने उसकी हरकत देखते हुए सर्विस पिस्टल थाने में जमा करवा दी।

दरअसल देहात थाना पुलिस ने कुछ दिन पहले राहुल शर्मा पर मारपीट का मामला दर्ज किया था। मामला जमानती धाराओं में दर्ज था अत: थाने से ही जमानत मिलने वाली थी। जमानत की सभी शर्तें पूरी करने के बावजूद सब इंस्पेक्टर जमानत देने के बदले में 10 हजार रुपए की मांग कर रहे थे। राहुल शर्मा ने इसकी शिकायत लोकयुक्त एसपी को की. इसके बाद लोकायुक्त ने राहुल को एक टेप रिकॉर्डर दिया, जिसमें रिश्वत की पूरी बातचीत रिकॉर्ड कर ली गई।

इस रिकॉर्डिंग के आधार पर लोकायुक्त ने सब इंस्पेक्टर को ट्रैप करने की योजना बनाई और इस योजना के तहत राहुल पांच हजार रुपया लेकर देहात थाने पहुंचा। जैसे ही सोनीलाल माथुर ने पैसे लेकर जेब मे रखे तभी लोकायुक्त की टीम ने सब इंस्पेक्टर को पकड़ लिया। उनकी जेब से 5 हजार रुपए जब्त किए गए। फरियादी के अनुसार उसके खिलाफ मारपीट का झूठा केस दर्ज किया गया है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Trending

Popular News This Week