बिना पायलट पटरी पर 13 किलोमीटर दौड़ा इंजन, BIKE से पीछा करके रोका

Thursday, November 9, 2017

कालबुर्गी। कर्नाटक के वाडी स्टेशन से एक इलेक्ट्रिक इंजन करीब 13 किलोमीटर तक बिना लोको पायलट के दौड़ा और एक कर्मचारी ने बाइक से पीछा कर उसे रोका। कर्मचारी ने बिल्कुल फिल्मी अंदाज में इंजन पर सफलतापूर्वक काबू पा लिया और उसमें सवार होकर इंजन को रोक दिया।रेलवे के अधिकारियों ने बताया कि कल अपराह्न करीब तीन बजे वाडी जंक्शन पहुंची चेन्नई-मुंबई ट्रेन जब बोगियों में डीजल इंजन जोड़े जाने के लिये रुकी थी तभी यह घटना हुई। 

वाडी से महाराष्ट्र के सोलापुर जाने के मार्ग में विद्युतिकरण नहीं होने के कारण ट्रेन की बोगियों में डीजल इंजन जोड़ा जाना था। अधिकारियों ने बताया कि मुंबई ट्रेन में नियमित रूप से डीजल इंजन जोड़ा जाता है जो वाडी से सोलापुर के लिये अपनी आगे की यात्रा पर रवाना होती है। लेकिन इसी बीच लोको पायलट के इससे उतर जाने के बाद गलती से इलेक्ट्रिक इंजन अपने आप चलने लगा।

घटना से स्तब्ध लोको पायलट यह नजारा देखता रह गया लेकिन वाडी स्टेशन के अधिकारियों ने अगले कुछ स्टेशनों को सिग्नल और पटरी निर्बाध रखने के लिये कहा। अधिकारियों ने बताया कि किसी अप्रिय घटना से बचने के लिये विपरित दिशा से आती दूसरी ट्रेनों को रोक दिया गया।

जैसे ही इलेक्ट्रिक इंजन शुरू हुआ रेलवे के एक कर्मचारी ने मोटरसाइकिल पर उसका पीछा किया और किसी तरह उसे रोकने में सफल रहा। इंजन करीब 13 किलोमीटर तक दौड़ा और उसे नलवार के निकट रोका गया।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Popular News This Week