खुद करें अपने PC-LAPTOP की देखभाल, स्पीड बढ़ाएं

Tuesday, October 24, 2017

लगातार इस्तेमाल करने पर कई बार आपका लैपटॉप और सिस्टम स्लो हो जाता है, ऐसे में यूजर्स को काफी परेशानी होती है और वो उसे फॉर्मेट कर देते हैं लेकिन स्लो होने पर हर बार कम्प्यूटर और लैपटॉप को फॉर्मेट करने की जरुरत नहीं है। बिना फॉर्मेट किए भी आप इसकी स्पीड बढ़ा सकते हैं। हम यहां आपको ऐसे ही तरीके बता रहे हैं, जिसा इस्तेमाल कर आप बिना फॉर्मेट किए अपने स्लो हो चुके कम्प्यूटर या लैपटॉप को फास्ट कर सकते हैं।

रिसाइकिल बिन (Recycle Bin) को खाली करें
यूजर्स को समय-समय पर रिसाइकिल बिन को खाली कर देना चाहिए. आप सिस्टम या लैपटॉप से जो फाइलें डिलीट करते हैं, वो रिसाइकिल बिन में पड़ा रहता है, यानि आपका रिसाइकिल बिन भरता जाता है, और रिसाइकिल बिन विंडोज का हिस्सा है, ये विंडो को स्लो करता है. इसलिए जरुरी है कि आप रिसाइकिल बिन से फाइल्स डिलीट करते रहें. इसके अलावा Shift + Delete कमांड का इस्तेमाल करके आप फाइल्स को परमानेंट डिलीट कर सकते हैं.

स्टार्ट अप प्रोग्राम्स
कई बार स्टार्ट अप प्रोग्राम्स को ज्यादा इंस्टॉल करने पर भी कम्प्यूटर की स्पीड स्लो हो जाती है. स्टार्ट अप ऐसे प्रोग्राम होते हैं, जो कम्प्यूटर के ऑन होने पर ऑटोमैटिकली ऑन हो जाते हैं. न्यूज फीड, जी-टॉक, स्काइप, बिट टोरेंट जैसे प्रोग्राम इसमें शामिल हैं. जिन्हें यूजर्स अक्सर इस्तेमाल करते हैं. इसे अनइंस्टॉल करने के लिए स्टार्ट मेन्यू पर जाएं और रन कमांड चुने या फिर 'windows key + R' क्लिक करें, जो विंडो ओपन होगी उसमें "msconfig" लिखकर एंटर बटन दबाएं. यहां से स्टार्ट अप (Start Up) टैब पर क्लिक करें और जिन प्रोग्राम्स का इस्तेमाल नहीं करना उन्हें लिस्ट से हटा दें.

C ड्राइव खाली रखें
कम्प्यूटर या लैपटॉप में C ड्राइव सबसे जरूरी ड्राइव होती है. इस ड्राइव में ज्यादा डाटा ना रखें. हार्ड डिस्क के इस हिस्से में सभी जरूरी सॉफ्टवेयर्स रहते हैं, जिनके बिना आपका सिस्टम चल नहीं पाएगा. साथ ही कोई भी पर्सनल डाटा C ड्राइव में नहीं रखें.

ड्राइवर्स अपग्रेड करते रहें
अगर आप HD गेमिंग के शौकीन हैं तो गेमर्स के लिए सबसे जरूरी है कि वो अपने पीसी के ड्राइवर्स अपग्रेड करते रहें. ड्राइवर्स वो खास प्रोग्राम होते हैं जो किसी हार्डवेयर को चलाने का काम करते हैं. अपने हार्डवेयर के हिसाब से ड्राइवर अपडेट किए जा सकते हैं, कंप्यूटर में AMD, nVidia या इंटेल जिसका भी ग्राफिक्स प्रोसेसर हो उसके हिसाब से ड्राइवर भी अपग्रेड करवा लें. ऐसे में गेम खेलते समय पीसी हैंग नहीं होगा.

एक से ज्यादा एंटी वायरस
एक से ज्यादा एंटी वायरस अपने सिस्टम में ना रखें, पीसी या लैपटॉप के लिए एक ही रजिस्टर्ड एंटीवायरस काफी होता है. ऐसे में 2 प्रोग्राम 2 प्रोग्राम या कोई फयरवॉल प्रोग्राम इंस्टॉल करने पर पीसी स्लो हो जाता है.

सिस्टम फाइल्स
कम्प्यूटर का ऑपरेटिंग सिस्टम हमेशा पीसी की सिस्टम फाइल्स में बदलाव करता रहता है. इनमें कई फाइल्स ऐसी होती हैं जो सिस्टम अपडेट के बाद करप्ट हो जाती हैं। ऐसी फाइल्स यूजर्स के काम की नहीं होती हैं, लेकिन फिर भी सिस्टम में जगह घेरे रहती हैं। ऐसी फाइल्स को डिलीट किया जा सकता है या फिर रिपेयर किया जा सकता है।

करप्ट फाइल्स को सिस्टम से डीलीट करें, करप्ट फाइल चेक करने के लिए कंट्रोल पैनल में जाएं, फिर प्रोग्राम में जाएं इसके बाद अनइस्टॉल और चेंज प्रोग्राम्स में जाएं. अब System File Checking(सिस्टम फाइल चेकिंग) की मदद से करप्ट फाइल्स पीसी से हटाएं या फिर इन्हें रिपेयर करें.

पुराना पीसी है तो 
अगर आपका पीसी बहुत पुराना हो चुका है तो उसकी स्पीड बढ़ाने के लिए हार्डवेयर बदल सकते हैं. पीसी की रैम बढ़ाई या बदली जी सकती है. कई बार ज्यादा पुराने पीसी में पोर्ट्स जाम हो जाते हैं. ऐसे में किसी टेक्नीशियन को बुला कर हार्डवेयर की जांच करवा लें.

डेस्कटॉप साफ रखें
पीसी की स्पीड बूस्ट करने के लिए अपना डेस्कटॉप साफ रखें, जितनी ज्यादा फाइल्स डेस्कटॉप में सेव होंगी उतनी ही ज्यादा मेमोरी खर्च होगी. इसलिए फाइल्स को डेस्कटॉप में सेव करने की जगह ड्राइव्स में सेव करके रखें. अपने सिस्टम और लैपटॉप को वायरस से बचाने के लिये रजिस्टर्ड एंटीवायरस का ही इस्तेमाल करें. साथ ही समय-समय पर पीसी का फुल स्कैन भी करते रहें.

अनुपयोगी सॉफ्टवेयर्स
कई बार हमारे पीसी में ऐसे कई सॉफ्टवेयर्स होते हैं, जिनका उपयोग कभी नहीं किया जाता है. तो ऐसे सॉफ्टवेयर्स को हटा दें क्योंकि ये स्पसे घेरे रहते हैं. साथ ही अगर आप एनिमेशन इफेक्ट्स या विजुअल्स का इस्तेमाल कर रहे हैं और आपकी पीसी की इंटरनल मेमोरी कम है तो इनका इस्तेमाल ना करें क्योंकि ये पीसी की स्पीड को स्लो करते हैं.

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Trending

Popular News This Week