घोटाला: BJP नेता के पेट्रोल पंप पर नहीं घटे डीजल के दाम

Sunday, October 15, 2017

ललित मुदगल/शिवपुरी। सीएम शिवराज सिंह चौहान ने किसानों की मदद के लिए डीजल पर से 5 प्रतिशत वैट टैक्स एवं अधिभार खत्म कर दिया है। नई दरें लागू हो गईं हैं परंतु बदरवास स्थित भाजपा नेता अनुसूचित जाति मोर्चा के जिलाध्यक्ष और पूर्व डीएसपी नरेन्द्र आर्य के पेट्रोल पंप पर अभी भी खुलेआम पुरानी दरों पर डीजल बेचा जा रहा है। पंप की यह गड़बड़ी शिवपुरी के ही एक प्रशासनिक अधिकारी शिरोमणि दुबे डीपीसी ने पकड़ी। उन्होंने एसडीएम को तत्काल सूचित भी किया परंतु एसडीएम ने पंप संचालक के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की। 

मामला प्रमाणित है, एसडीएम से हुई बातचीत की रिकॉर्डिंग भी सुरक्षित है। कहानी कुछ यूं है कि शिक्षा विभाग के डीपीसी शिरोमणि दुबे कुछ स्कूलों का निरीक्षण करने बदरवास क्षेत्र में पहुंचे। जहां बारई गांव के पास उनकी कार का डीजल कम हो गया तो डीपीसी ने पास ही स्थिति पेट्रोल पंप बांकडे जी किसान सेवा केन्द्र पर डीजल लेना चाहा। जैसे ही वह डीजल लेने लगे तो उन्होंने डीजल की रेट देखी तो वह 64 रूपए दिखी। जिसपर उन्होंने पेट्रोल पंप के स्टाफ से पूछा कि आप पुरानी रेट में डीजल क्यों बेच रहे हो तो पेट्रोल पंप पर स्थिति स्टाफ ने कहा कि उन्हें लिखित आदेश नहीं मिला है। उसके बाद इस मामले की शिकायत डीपीसी ने एसडीएम कोलारस आरएस प्रजापति से की। 

इस मामले में सबसे बड़ी बात यह है कि एसडीएम की टीम तुरंत मौके पर पहुंची और देखा तो रेट बड़ी हुई थी। परंतु एसडीएम ने कोई कार्रवाई नहीं की। बस इतना किया कि डीपीसी को नई दरों पर डीजल दिलवा दिया। बताया जा रहा है कि उक्त डीजल पंप जिले के बदरवास तहसील क्षेत्र के ग्राम बारई में स्थित है। यह पंप भाजपा के अनुसूचित जाति मोर्चा के जिलाध्यक्ष और पूर्व डीएसपी नरेन्द्र आर्य का है।

इस मामले में जब एसडीएम कोलारस से बातचीत की तो उन्होने स्वीकार किया कि ऐसा मामला हुआ है, लेकिन वह पंप ज्यादा नही चलता है, मैने फूट इंस्पेक्टर को कह दिया कि उक्त पंप ने जिस भी ग्राहक को ज्यादा रेट पर डीजल बेचा है उन्हे तलाश कर पैसे वापस कराए जाए। सवाल यह है कि यह कैसा न्याय है। कार्रवाई करने के बजाए जुमला सुना दिया गया। 

इनका कहना है-
मैं कल जब डीजल डलाने उक्त पंप पर पहुंचा तो रेट बड़े हुए दिखे। जिसपर मेने तत्काल एसडीएम को उक्त मामले की सूचना दी थी। अब इस तरह पब्लिक को लूटना गंभीर मामला है। अब एसडीएम ने क्या कार्यवाही की यह वह ही बता पाएगें। पर मेने इस पेट्रोल पंप से फिर डीजल नहीं लिया। 
शिरोमणि दुबे, डीपीसी शिवपुरी।

हां डीपीसी ने मुझे इस बात की शिकायत की थी। मेने तत्काल टीम को भेजा जिसने इस पेट्रोल पंप पर रेटों को सही कराया। अब यह पेट्रोल पंप देहात का है जहां इतनी बिक्री नहीं होती। अब आप बता रहे हो तो में अब फिर फूड स्पेक्टर को भेजता हूं और जितने भी लोगों से बड़े हुए रेट में डीजल पेट्रोल बेचा होगा सबके पैसे बापिस दिलाता हूं। 
आर ए प्रजापति, एसडीएम कोलारस। 

आपके द्वारा यह मामला मेरे संज्ञान में लाया गया है। में मामले को खाद्य अधिकारी को बताता हूं। अब एसडीएम ने क्या कार्यवाही की यह जांच प्रतिवेदन में स्पष्ट होगा और रही बात किसी पार्टी की तो वह कोई मामला नहीं है जो भी दोषी पाया जाएगा उस पर कार्यवाही की जाएगी। 
तरूण राठी, कलेक्टर शिवपुरी। 

यदि कोई पेट्रोल पंप निर्धारित दरों से अधिक दरों पर पेट्रोल या डीजल विक्रय करता पाया जाता है तो नियमानुसार उसके खिलाफ तत्काल कार्रवाई की जानी चाहिए। पंप को सील भी किया जा सकता है। 
अमित चतुर्वेदी
हाईकोर्ट एडवोकेट 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Trending

Popular News This Week