BHOPAL: शराबी डॉक्टर की हरकतों से परेशान युवा बेटी फांसी पर झूली

Saturday, October 21, 2017

भोपाल। शराबी डॉक्टर की हरकतों से परेशान फार्मेेसी पास बेटी ने सुसाइड कर लिया। उसने सुसाइड नोट भी छोड़ा है। बताया गया है कि शराबी डॉक्टर आए दिन अपनी बेटी को जलील किया करता था। घटना वाले दिन भी उसने दीपावली मिलने आए परिवार के सामने बेटी को भला बुरा कहा और ताने मारे। इसके तत्काल बाद उसने आत्महत्या कर दी। मामला अवधपुरी क्षेत्र का है। पुलिस ने कार्रवाई शुरू कर दी है। समाचार लिखे तक आरोपी डॉक्टर को गिरफ्तार नहीं किया गया था। 

अवधपुरी पुलिस के अनुसार शंकर राव पराडकर विजय लक्ष्मी होम्स अवधपुरी में परिवार सहित रहते हैं। वे पशु चिकित्सक हैं और वर्तमान में गुनगा में पदस्थ हैं। उनकी बड़ी बेटी ऐश्वर्या (23) फार्मेसी पास कर चुकी है। बेटा कॉलेज की पढ़ाई करता है। बीती रात पराडकर के बड़े भाई-भाभी दीपावली पर मिलने आए थे। 11 बजे पराडकर और उनका बेटा भाई-भाभी को घर छोड़ने गए थे। साढ़े ग्यारह बजे जब दोनों लौटकर आए तो ऐश्वर्या नहीं दिखी। ऐश्वर्या की मां ने बेटे से कहा कि ऐश्वर्या को कमरे में से बुला लाओ। भाई ने दरवाजा खटखटाया तो कोई रिस्पांस नहीं मिला। खिड़की से झांककर देखा तो ऐश्वर्या दुपट्टे का फंदा बनाकर पंखे लटकी हुई थी। देर रात मृतका के परिजन उसे फंदे से उतारकर एम्स मेडिकल कॉलेज लेकर पहुंचे, जहां चिकित्सकों ने जांच के बाद मृत घोषित कर दिया।

मिला सुसाइड नोट
विवेचना अधिकारी ने बताया कि मृतका के पास से सुसाइड नोट बरामद हुआ है। सुसाइड नोट में लिखा है कि पिता शराब पीकर आए दिन डांटने के साथ गाली-गलौज करते हैं। पिता के तानों व आए दिन परेशान करने से तंग आकर मैं खुदकुशी कर रही हूं।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Trending

Popular News This Week